Pehchan Faridabad
Know Your City

लव जिहाद में मां बेटी को गाड़ने वाले शमशाद को मुठभेड़ में लगी 4 गोलियां, मचा हड़कंप

लव जिहाद में मां बेटी को गाड़ने वाले शमशाद को मुठभेड़ में लगी 4 गोलियां : लव जिहाद का एक और मामला सामने आया है | मुस्लिम सोचते हैं कि उन्हें मासूम हिन्दू लड़कियों को प्रेमजाल में फसा कर उन्हें मौत के घात उतारकर जन्नत नसीब होगी |

कोई धर्म यह नहीं कहता की किसी का खून करके आप जन्नत जाओगे | प्रेम जाल में फसाकर हिन्दू लड़कियों को मार के आखिर जन्नत कैसे मिल सकती है ? यह तो नरक में भी जगह न मिले ऐसा काम है | उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में मां-बेटी की हत्या करने के बाद पुलिस कस्टडी से भागने वाले आरोपी शमशाद को पुलिस ने मुठभेड़ में धर दबोचा है |

इश्क के बदले मौत क्या सिर्फ हिन्दू लड़किओं के लिए ही है ? लव जिहाद के सभी मामलों में अमूमन मुस्लिम अपने आप को हिन्दू बताते हैं और फिर हिन्दू लड़की को प्रेम जाल में फसा कर उसको मार देते हैं | भारत के मुस्लिम, पाकिस्तान को अपना मुल्क ज़्यादा मानते हैं ऐसा अधिक प्रतीत होता है |

पाकिस्तान से अधिक मुस्लिम आबादी भारत में है, पाकिस्तान में हिन्दू लड़किओं को अगवा कर लिया जाता है और भारत में मुस्लिम लड़के हिन्दू लड़की को प्रेमजाल में फसा कर हमेशा के लिए सुला देते हैं | उत्तर प्रदेश में मुस्लिम समुदाय के शादीशुदा युवक ने एक महिला से पहले धर्म छिपाकर दोस्ती की और फिर दुष्कर्म के बाद शादी कर ली |

इसका भेद खुलने पर आरोपी ने अपने साले के साथ मिलकर मां-बेटी की गला घोंटकर हत्या कर दी और शव बेडरूम में ही गड्ढा खोदकर दबा दिए | 115 दिनों बाद बुधवार को पुलिस ने फर्श तुड़वाकर दोनों के कंकाल बरामद किए। 

2 निर्दोष आत्माओं का बस यही जुर्म था की वह हिन्दू थे | कर्मों का फल सुना है इसी जन्म में चुकाना होता है, लेकिन कभी भी हमने नहीं सुना की किसी हिन्दू ने मुस्लिम बनके मुस्लिम लड़की को प्रेमजाल में फसा के मारा हो |

धर्मों में यही अंतर है इस्लाम धर्म तो लगता है यही कहता है कि बेक़सूर लोगों को मारों आपको जन्नत नसीब होगी, शायद यही कारण है कि मुस्लिम ही दूसरे लोगों को मारते हैं | आतंकवाद का पर्यायवाची बन चुके हैं मुस्लिम |

सनातन धर्म तो यही शिक्षा देता है कि किसी के साथ गलत मत करों किसी का दिल मत दुखाओ यही कारण है कि हिन्दू सभी धर्मों के लोगों का आदर करते हैं किसी को बेक़सूर नहीं मारते, किसी को प्रेमजाल में फसा कर उसकी हत्या नहीं करते |

यूपी के इस मामले में पुलिस के मुताबिक बिहार निवासी शमशाद भूडबराल नई बस्ती में प्रिया और उसकी बेटी कशिश के साथ रहता था | पांच साल पहले शमशाद ने खुद को अमित गुर्जर बताकर प्रिया से दोस्ती की थी | 28 मार्च 2020 को शमशाद ने अपने साले के साथ मिलकर मां-बेटी की हत्या कर दी थी | जिसके बाद प्रिया की मोदीनगर निवासी सहेली चंचल पर मां-बेटी को गायब करने का आरोप लगाया था |

सभी इंसान एक समान हैं लेकिन शायद जिहादियों के लिए हिन्दू तो न जाने क्या हैं | पूछताछ में चंचल के शक जताने पर पुलिस ने शमशाद से सख्ती से पूछताछ की तो बुधवार तड़के शमशाद ने दोनों की हत्या करना कबूल किया |

जिसके बाद पुलिस ने दोनों के कंकाल बरामद किए | पुलिस ने भूडबराल स्थित शमशाद का मकान बुलडोजर से ढहा दिया | एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि आरोपी शमशाद को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया गया है |

योगी सरकार ने विकास दुबे की तरह तुड़वाया शमशाद का मकान

सोशल मीडिया पर एक जंग छिड़ी हुई थी विकास दुबे एनकाउंटर के समय की यदि विकास मुस्लिम होता तो मुस्लिम लोग सरकार को घेरते की आपने मुस्लिम को मार दिया और यह सच भी है जो लोग शरजील इमाम, बुरहान वाणी, सफूरा ज़रगर को इंसानियत का फरिश्ता बताते हैं तो न जाने वे विकास के लिए क्या न कर देते शुक्र है वो विकास दुबे था, “विकास खान” नहीं |

मेरठ पुलिस ने प्रेमिका व उसकी बच्ची के हत्यारोपी शमशाद का घर बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया। शमशाद ने हत्या करने के बाद प्रिया का मोबाइल, घड़ी और कुछ कपड़े दीवारों में चिनवा दिए थे, ताकि किसी को शक न हो | इन सामान को बरामद करने के लिए मकान की दीवारें तुड़वानी पड़ी |

इश्क़ है हवा नहीं दिल है खिलौना नहीं | मुस्लिम है सभी माफ़ है, क्या हिन्दू होना पाप है ?

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More