Online se Dil tak

जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा

जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा :- जम्मू-कश्मीर में रेलवे अपना नेटवर्क तेजी से बढ़ाने की जद्दोजहद में लगा हुआ है बता दें कि इसी क्रम में इंडियन रेलवे कश्मीर में भारत का पहला केबल रेल ब्रिज भी बना रहा है।

जानकारी के मुताबिक कटरा और रियासी के बीच भारतीय रेल देश का पहला केबल पर टिका रेल ब्रिज बनाने जा रही है।

जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा
जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने ट्वीट में केबल ब्रिज से जुड़ा एक वीडियो भी ट्वीट किया है जिसमें अंजी पुल को उत्कृष्ट इंजीनियरिंग का बेहतरीन नमूना बताया गया है।

रेल मंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ये ब्रिज ऊधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक परियोजना का एक हिस्सा है जो जम्मू कश्मीर क्षेत्र में रेलवे नेटवर्क को मजबूत करेगा व राज्य के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

केबल ब्रिज को लेकर कही बड़ी बात

जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा
जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा

वीडियो में बताया गया है कि यह शानदार अंजी पुल कटरा और रियासी के बीच बनेगा. वीडियो में देश के पहले केबल रेल ब्रिज से जुड़ी कुछ खासियतें भी बतायी गयी हैं. वीडियो के मुताबिक इस पुल की लंबाई 473.25 मीटर है. जबकि केबल रेल ब्रिज के लिए बनाए जा रहे खंभे की ऊंचाई नदी के तल से 331 मीटर है।

इसके अलावा वीडियो में बताया गया है कि पुल को सपोर्ट देने के लिए खंभे से 96 केबल का जाल बनाया जाएगा. यह खास डिजाइन पुल को तेज हवाओं और भयंकर तूफानों में भी मजबूती से खड़े रहने में मदद कर सकता है I

कोंकण रेलवे कार्पोरेशन बना रहा है ये ब्रिज

जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा
जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा

आपको बता दें कि कठिन भौगोलिक परिस्थितियों में बन रहा यह रेल ब्रिज इंजीनियरों के लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है. अंजी पुल चिनाब दरिया पर बनाया जा रहा है. इसके निर्माण कार्य में लगे कर्मचारियों और इंजीनियर्स की सुरक्षा का खास ध्यान रखा गया है।

कोंकण रेलवे कार्पोरेशन को इस ब्रिज के निर्माण की जिम्मेदारी सौंपी गई है. ब्रिज के निर्माण के लिए जो क्रेन इस्तेमाल की जा रही है वो 25 मीट्रिक टन तक का वजन यानी भार उठाने में सक्षम है वर्ल्ड क्लास सर्विस, 160 Km/h की रफ्तार में प्राइवेट ट्रेने चलेंगी, अंजी पुल की लंबाई 473.25 मीटर है और पुल के सपोर्ट के लिए बनाए जाएंगे 96 केबल तार ।

अंजी ब्रिज जहां बन रहा है उस जगह का भू-विज्ञान बहुत जटिल है अत्यधिक टूटी और संयुक्त चट्टानों के बीच निर्माण कार्य किया जा रहा है।

जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा
जम्मू-कश्मीर के कटरा में बनेगा केबल ब्रिज, अब नहीं आएगी कटरा की यात्रा में कोई भी बाधा

केबल पर आधारित ब्रिज के लिए एक ऊंचा पिलर बन रहा है जिसके दोनों ओर केबल बांधा जाएगा. पुल के निर्णाण कार्य में लगे कर्मचारियों के लिए आधुनिक यंत्रों की व्यवस्था की गई है जिसमें जम्प शटरिंग का भी इस्तेमाल शामिल है।

Written by- Prashant K Sonni

Read More

Recent