Pehchan Faridabad
Know Your City

फरीदाबाद के नौजवानों की समस्याओं को सुनने के लिए, प्रत्येक थाना में तैनात होंगें टीनएज पुलिस (टी.ए.पी)

फरीदाबादः आज दिनांक 27-07-2020 को टीनएज पुलिस से प्रभावित डी.पी.एस स्कूल के 12वीं क्लास के छात्र शौर्य ने पुलिस आयुक्त मोहदय, श्री ओपी सिंह से मुलाकात करने के लिए उनके कार्यालय सै0 21 सी पहुॅचा।

पुलिस आयुक्त को टीनएज पुलिस बनाने के पहल पर खुशी जताते हुए (छात्रों) टीनएजर्स की जिंदगी की समस्याओं और उनके प्रभाव के बारे में विस्तार से बात की।

छात्र ने पुलिस आयुक्त मोहदय, को उनकी ईमेल आईडी पर मैसेज कर फरीदाबाद में गठित की गई टीनएज पुलिस के बारे में बातचीत करने के लिए समय मांगा था। जिसपर पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने छात्र शौर्य से अपने कार्यालय में मुलाकात की।

शौर्य ने पुलिस आयुक्त से 40 मिनट की वार्ता के दौरान छात्र/छात्राओं की समस्याओं के बारे में बातचीत की।

मुलाकात के दौरान छात्र शौर्य ने पुलिस आयुक्त को बताया कि एक विद्यार्थी होने के नाते उनको किन-किन समस्याओं का सामना करना पडता है। जैसे कि साथियों का दबाव, माता-पिता का दबाव, परीक्षा/परिणाम का दबाव, निम्नतम शैक्षणिक परिणाम, शैक्षणिक सफलता तक सीमित जीवन, बुलिंग कम मार्क्स आने पर ताने/तजं इत्यादि को झेलना पड़ता है।

छात्र ने श्रीमान पुलिस आयुक्त महोदय को बताया कि स्कूल में कुछ इस तरह के ग्रूप होते है जिसमें बच्चों के शारीरिक आकार, रंग रूप, पहनावा, भाषा, इत्यादि से संबंधित तंज कसे जाते है। अध्यापक की बातों को मानने वाले बच्चों को चापलूस कहा जाता है। कई बार इन समस्यओं के चलते बच्चे का मानसिक संतुलन खराब होने के कारण वह गलत कदम उठा लेता है।

पुलिस कमिश्नर श्री ओ.पी सिंह ने कहा की प्रत्येक थाने में टीएपी आउटरीच ऑफिसर की तैनाती की जाएगी जिसमें महिला व पुरुष पुलिसकर्मी इसमें कार्य करेंगे जो किशोर एवं किशोरियों की समस्याओं के समाधान व नासमझी की वजह से कुछ छात्रों द्वारा मादक पदार्थो के सेवन और अपराध की दलदल में फंसने से बचाने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि स्कूल, कोचिंग सेंटर इत्यादि जगहो पर टी.ए.पी पुलिस की नजर रहेंगी। टी.ए.पी पुलिस स्कूलों में जाकर बच्चों को अपराध, नशा और गलत संगत पड़ने के कारणों व उनके निदान पर कार्य करेंगे व अंडर एज ड्राइविंग ना करने के बारे में जागरूक करेंगे।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि टीएपी टीनएजर्स की समस्याओं के समाधान पर ध्यान केंद्रित करेगी, उनके टीनेजर्स अधिकार क्या है के बारे में बताएगी। किशोरों को कानून के बारे में जानकारी देंगे ताकि गलत संगत में पड़कर अपराध की दलदल मे फसने से बचाया जा सकें।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि TAP पुलिस अभियान चलाएगी जिसमें पब, बार, हुक्का बार इत्यादि जगह पर जाकर उनको बताया जाएगा कि वह किशोरों को यह चीजें उपलब्ध ना कराएं क्योंकि यह छात्र-छात्राओं के शारीरिक और मानसिक दोनों पर दुष्प्रभाव डालती है।

शराब के ठेकों के बाहर ध्यान रखा जाएगा और अगर कोई किशोर शराब खरीदते पाया जाता है तो उसको इस बारे में समझाया जाएगा और नशे से होने वाले दुष्परिणामों से अवगत कराया जाएगा।

टी ए पी पुलिस का मुख्य उद्देश्य किशोरों को नशा करने और अपराध की दुनिया में जाने से बचाना रहेगा और उनको अच्छा जीवन जीने और एक अच्छे व्यक्तित्व वाला इंसान बनने के लिए प्रेरित किया जाएगा। पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने छात्र शौर्य सूर्य देव भारद्वाज को उनके द्वारा लिखित पुस्तक से यस टू स्पोर्ट्स उपहार स्वरूप प्रदान की।पुलिस प्रवक्ता।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More