Pehchan Faridabad
Know Your City

बीती रात स्विट्जरलैंड के विशाल पहाड़ों में दिखा भारतीय तिरंगा , पढ़े और जाने रहस्य ।


स्विटज़रलैंड ने स्विस आल्प्स में प्रसिद्ध मैटरहॉर्न पर्वत पर भारतीय तिरंगा दिखाने के लिए प्रोजेक्टर से प्रोजेक्ट करके कोरोनोवायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में भारत के साथ एकजुटता व्यक्त की है। स्विस लाइट आर्टिस्ट गेरी हॉफसिट्टर ने स्विटज़रलैंड और इटली के बीच 4,478 मीटर पिरामिड की चोटी को अलग-अलग देशों के झंडों के शानदार प्रदर्शन के साथ रोशन किया है और रात्रि श्रृंखला के भाग के रूप में आशा के संदेशों के साथ राष्ट्रों को घातक COVID-19 महामारी का मुकाबला करने का समर्थन किया है।

जानिए कैसे है स्विट्जरलैंड और भारत के संबंध ?

स्विट्जरलैंड दुनिया की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है । इस देश का 70% हिस्सा पहाड़ों से ढका हुआ है । ये देश खूबसूरत पहाड़ों और आलीशान रहन सहन के लिए जाना जाता है ।भारत–स्विट्ज़रलैंड संबंध लोकतांत्रिक शासन प्रणाली की समानता ने स्विटजरलैंड और भारत के बीच अच्छे रिश्ते के विकास की पृष्ठभूमि का निर्माण किया है। युरोपिय संघ से संबद्धता के कारण भी भारत से स्विटजरलैंड के अच्छे संबंध रहे हैं। इस समय पूरी दुनिया में कोरोना वायरस बीमारी ने पूरी दुनिया में उतल फुतल मचा रखी है ।इस बीमारी कि वजह से दुनिया के कई देश लॉक है ।

कैसे हिंदुस्तान की हुई पूरी दुनिया में तारीफ ?

घनी आबादी वाला भारत देश भी इस बीमारी से पीड़ित है ।इतने बड़े देश में चुनौतियां बहुत बड़ी है । मैटरहॉर्न पर भारतीय ध्वज हमारी एकता को व्यक्त करने और सभी भारतीयों को आशा और शक्ति देने के लिए है । समय रहते भारत के माननीय प्रधान मंत्री ने लॉक डाउन के आदेश देकर देश में आने वाली चुनौतियों का डटकर सामना किया। अलग अलग अलग जाती रहन सहन होने के बावजूद भी हमारे देश में कोरोना की महामारी अन्य बड़े देशों के मुकाबले कम है। यही कारण है कि आज हमारा हिन्दुस्तान देश पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है और हमारे देश की सूझ बूझ की तारीफ करी जा रही है ।

Matterhorn Mountain, Switzerland

क्या कहा हमारे प्रधानमंत्री ने ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट को कैप्शन के साथ साझा करते हुए कहा, “दुनिया COVID -19 को एक साथ लड़ रही है। मानवता निश्चित रूप से इस महामारी को दूर करेगी।” जैसा कि विश्व कोरोनोवायरस महामारी के साथ जूझ रहा है, स्विट्जरलैंड आशा, प्रेम और सहानुभूति के संदेश भेज रहा है। दैनिक अनुमान मार्च के अंत से पहाड़ को रोशन कर रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, COVID-19 की वजह से मृत्यु की संख्या बढ़कर 480 हो गई और शनिवार को भारत में मामलों की संख्या 14,378 हो गई। देश ने कोरोनोवायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी तालाबंदी को 3 मई तक बढ़ा दिया है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More