Pehchan Faridabad
Know Your City

LOC पर भारतीय सेना की बड़ी कामयाबी, आतंकी समेत कई पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया

मंगलवार को पाकिस्तान सेना ने गोलाबारी की आड़ में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर दो तरफ से आतंकियों की घुसपैठ कराने का बड़ा प्रयास किया।

उत्तरी कश्मीर में केरन व मच्छल सेक्टर और राजौरी के कलाल सेक्टर में हुए इस दुस्साहस को भारतीय सैनिकों ने बहादुरी से नाकाम बना दिया था ।

भारत की जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी और एक पाकिस्तानी सैनिक भी मारा गया। वहीं आपको बता दे की दो पाकिस्तानी सैनिकों और एक आतंकी के घायल होने की भी सूचना है। पाकिस्तानी सेना का एक इमारती ढांचा भी तबाह हुआ है।

पाकिस्तान गोलाबारी की आड़ में घुसपैठ कराने का प्रयास

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, देर शाम कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में एलओसी के अग्रिम छोर पर कुलाडी इलाके में गश्त कर रहे गोरखा रेजिमेंट के जवानों ने घुसपैठियों के एक दल को भारतीय इलाके की तरफ आते दिखे थे |

भारतीय जवानों ने पोजीशन लेते हुए आसपास की चौकियों को भी सतर्क कर दिया। घुसपैठिए जैसे ही तारबंदी के पास पहुंचे, जवानों ने उन्हें ललकारा। इस पर घु़सपैठियों ने जवानों पर फायरिंग करते हुए वापस भागने का प्रयास किया। इस पर जवानों ने भी जवाबी फायरिंग शुरू कर दी। करीब 35 मिनट तक दोनों तरफ से गोलीबारी हुई।

खुद को फंसता देख जान बचाने के लिए घुसपैठिये वापस भाग निकले। इस नाकामी से बौखलाए पाकिस्तानी सैनिकों ने मच्छल सेक्टर और गुगलडारा सेक्टर में भारतीय ठिकानों पर भारी गोलाबारी शुरू कर दी। पाकिस्तानी सैनिकों ने मुथल टॉप और जंगल टेकरी के इलाके को निशाना बनाया।

पाकिस्‍तानी सैनिको को मार गिराया

बता दे की इस पर भारतीय जवानों ने भी जवाबी फायर किया। उन्होंने एलओसी पार पाकिस्तानी सैनिकों की दो चौकियों वहाबडार और रटापानी को निशाना बनाया। जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना का एक इमारती ढांचा तबाह हो गया।

उसके एक सैनिक के मारे जाने और दो अन्य के जख्मी होने की सूचना भी है। सूत्रों ने बताया कि भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई के बाद पाकिस्तानी बंदूकें पूरी तरह खामोश हो गई। इससे पूर्व राजौरी के नौशहरा के कलाल सेक्टर से भी आतंकियों के एक दल ने भारतीय क्षेत्र में दाखिल होने का प्रयास कर रहे थे |

पांच आतंकी भारतीय क्षेत्र में दाखिल होने के लिए सीमा के करीब पहुंचे

कलाल सेक्टर के उस पार समानी बागसर में बने लांचिंग पैड से करीब पांच आतंकी भारतीय क्षेत्र में दाखिल होने के लिए सीमा के करीब पहुंच गए। इसी दौरान सीमा पर बिछी बारूदी सुरंग पर आतंकी का पांव पड़ा और वह उसी समय ढेर हो गया। इसपर आतंकियों व पाक सेना ने भारतीय क्षेत्र में भारी गोलाबारी शुरू कर दी। इसकी आड़ में अन्य चार आतंकी अपने साथी का शव उठाकर वापस लांचिंग पैड की तरफ भाग गए।

इनमें से एक आतंकी घायल बताया जा रहा है, जिसे गुलाम कश्मीर के भिंबर स्थित अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। सूत्रों के अनुसार, पांचों आतंकी आत्मघाती दस्ते के थे और भारी हथियारों से लैस थे। आशंका जताई जा रही है कि ये आतंकी भारतीय क्षेत्र में बड़ी वारदात को अंजाम देने आए थे।

हिजबुल कमांडर ने कहा- हमारे पास है पूरी लिस्ट

हिजबुल मुजाहिदीन के ऑपरेशनल कमांडर गाजी हैदर ने सुरक्षा बलों, बीजेपी कार्यकर्ताओं, ज्यूडिसरी, मीडिया और सिविल सोसाइटी को एक ऑडियो टेप के जरिए धमकी दी है गाजी हैदर ने ऑडियो में कहा है कि उन राजनेताओं ने,

“जिन्होंने भारत का समर्थन किया और कश्मीर के लिए कानून बनाए आज उन्हें खुद इसका सामना करना पड़ रहा है उन्होंने अपने खुद के कर्मों का स्वाद चखा, क्योंकि उन्हें भारत सरकार द्वारा हिरासत में रखा गया और उन्हीं कानूनों के तहत इनपर कार्रवाई हुई. भारत से सामने उनकी कीमत टिशू पेपर से ज्यादा नहीं है.”

आखिर में गाजी ने भारतीय सुरक्षा बलों को चुनौती देते हुए कहा कि हम भारतीय सेना को चैलेंज देते हैं कि मुठभेड़ की जगहों से स्थानीय नागरिकों को अलग रखें, उन्हें मानव ढाल की तरह इस्तेमाल न करें यदि आप इस प्रस्ताव को स्वीकार करते हैं, तो हम जंगलों और घरों से निकलकर खुले मैदान में लड़ने के लिए तैयार हैं ये हमारा वादा है |

Written by- Prashant K Sonni

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More