Homeये बातें बोल रही हैं, कोरोना काल में बाहर बेवजह निकलने की...

ये बातें बोल रही हैं, कोरोना काल में बाहर बेवजह निकलने की ग़लती मत करिये

Published on

ये बातें बोल रहीं हैं : महामारी का यह दौर सभी की ज़िन्दियों में बदलाव ला रहा है | कोरोना वायरस किसी को भी नहीं बक्श रहा है | लोगों में महामारी का डर एकदम खत्म हो चुका है | लेकिन जिसके दिलों में अब महामारी का डर गायब हो गया है, वो यह बाते जान कर अनजाने न बने जो हम आपको बताने जाने जा रहे हैं | आधे से ज़्यादा साल गुज़र चुका है लेकिन कोरोना वायरस से संक्रमित हो रहे लोगों की गिनती बढ़ती ही जा रही है |

1) भारत में औसतन प्रतिदिन बढ़ रहे हैं संक्रमण मामले, रोजाना 40,000 का आंकड़ा पार हो रहा है – महामारी कोरोना को हल्का समझने वाले, इस बात से अनजान बन गए हैं कि यह बीमारी किसी भी उम्र के व्यक्ति को अपनी पकड़ में ले सकती है | लाखों की जान लेने वाले इस वायरस को बिल्कुल भी हलके में न लें |

ये बातें बोल रही हैं, कोरोना काल में बाहर बेवजह निकलने की ग़लती मत करिये

2) डब्ल्यूएचो एक्सपर्ट के अनुसार जनवरी 2021 से पहले कोरोना वैक्सीन की कोई उम्मीद नहीं है – एक ओर जहां, कम से कम तीन कोरोना वायरस वैक्सीनों के इंसानों पर शुरुआती ट्रायल के नतीजे सकारात्मक मिले हैं, वहीं एक्सपर्ट्स का मानना है कि अभी कई महीनों तक आम लोगों को वैक्सीन नहीं मिल सकेगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के एक एक्सपर्ट का कहना है कि वैक्सीन को 2021 से पहले इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा | अभी आखिरी चरण के ट्रायल में बड़ी संख्या में लोगों पर टेस्ट किए जाने के बाद ही पता चल सकेगा कि ये वैक्सीनें वाकई में कितनी असरदार हैं |

hands with latex gloves holding a globe with a face mask
Photo by Anna Shvets on Pexels.com

3) संक्रमित लोगों की संख्या में, तीसरे स्थान पर पहुंच कर अब भारत दुनिया में सिर्फ़ अमेरिका और ब्राज़ील के पीछे है – देश में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामले संक्रमण की तेज रफ्तार की ओर इशारा करने लगे हैं। विशेषज्ञ भी गणितीय मॉडल के आधार पर बढ़ोतरी पर चिंता व्यक्त कर रहे हैं। भारत में संक्रमण की रफ्तार सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका और ब्राजील से भी ज्यादा है |

4) भारत ने कोरोना वायरस से संक्रमण के 15 लाख का आंकड़ा पार कर दिया – भारत में कोरोना मामलों की संख्या 15 लाख के पार पहुंच गई है | इस महामारी से यहां मरने वाले लोगों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है | देश में कोविड से करीब 34 हजार लोगों की मौत हो चुकी है | वहीं, दुनिया में कोरोना की रफ्तार बेकाबू हो रही है | मरीजों का आंकड़ा 1 करोड़ 67 लाख के पार पहुंच गया है | वहीं मरने वालों की संख्या 6.60 लाख पर पहुंच गया है | संक्रमण के मामले में अमेरिका अभी भी नंबर 1 पर है जहां कोरोना मरीजों की तादाद 44.54 लाख है | ब्राजील दूसरे नंबर पर है जहां मरीजों की संख्या 24.55 लाख से ज्यादा है |

ये बातें बोल रही हैं, कोरोना काल में बाहर बेवजह निकलने की ग़लती मत करिये

5) N95 मास्क को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने चेतावनी दी है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में ये पूरी तरह से कारगर नहीं है – केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने सभी राज्यों को N-95 मास्क के इस्तेमाल करने के खिलाफ चेतावनी दी है | इसमें कहा गया है कि N-95 मास्क हानिकारक हो सकता है क्योंकि वाल्व वायरस को मास्क से बाहर निकलने से नहीं रोकते हैं |

महामारी के इस दौर में बेवजह घर से बहार मत निकलिए | यदि किसी काम से बहार जाना पड़ भी रहा है तो शारीरिक दूरी और मास्क का अवश्य पालन करें | कोरोना के इस काल में फरीदाबाद वासियों के लिए एक अच्छी ख़बर है | आपको सर्दी, खांसी, जुखाम, बुखार आदि है तो ऑनलाइन अपने लक्षणों के बारे में बताकर डॉक्टर से फ्री में सलाह ले सकते हैं |

ये बातें बोल रही हैं, कोरोना काल में बाहर बेवजह निकलने की ग़लती मत करिये

https://faridabad.swasth.app/consult-with-doctors नाम के वेबपोर्टल पर यह सुविधा है। स्वस्थ ऐप फरीदाबाद वासियों के लिए एक राहत भरी चीज़ है, जिसका उपयोग करके वह घर से कम से कम बहार निकल सकते हैं | इसमें न केवल लक्षणों के आधार पर डॉक्टर आपको फ्री में दवाइयां कौन सी लेनी हैं यह बताएगा, वहीं आप ऑनलाइन दवा भी मंगा सकते हैं। टेस्ट कराने के लिए ऑनलाइन बुकिंग की भी सुविधा है, जिसका शुल्क देना होगा |

घर पर रहिए सुरक्षित रहिए | घर से बेवजह बहार निकलना मतलब कोरोना को आमंत्रित करना |

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...