Pehchan Faridabad
Know Your City

हरियाणा: जबरन धर्म परिवर्तन कर शादी रोकने के लिए बिल लाएगी खट्टर सरकार

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है की उनकी भाजपा शासित सरकार, धार्मिक परिवर्तन के खिलाफ एक बिल लाने जा रही है।

कुछ क्षेत्र में जबरन धर्म परिवर्तन के मामले आए हैं जिसे हरियाणा सरकार बैकफुट पर आ गई है। ऐसे में गलत तरीके से किसी का धर्म परिवर्तन करने के हथकंडे अपनाने वालों पर धर्म स्वतंत्र अधिकार बिल के अनुसार उनपर पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने यह भी कहा की गोकशी की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए दोषियों के विरुद्ध फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई करने सहित धार्मिक मामलों पर नजर रखने के लिए एक बोर्ड का गठन किया गया है।

खट्टर ने कहा की कुछ क्षेत्रों में जबरन धर्म परिवर्तन के मामले सामने आ रहा है। ऐसे में गलत तरीके से धर्म परिवर्तन करने का हथकंडे अपनाने वालों का अपराध प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। इन लोगों के खिलाफ स्वतंत्रता अधिकार विधेयक पारित होने पर कार्रवाई की जाएगी।इस विधेयक में गलत बयान, बलपूर्वक प्रभाव, जबरदस्ती, प्रलोभन, विवाह या किसी धोखाधड़ी के जरिए धर्म परिवर्तन के खिलाफ प्रावधान किए गए हैं।

अल्पसंख्यक हिंदू क्षेत्रों के लिए भी सरकार की ओर धर्मादा बोर्ड का गठन करते हुए हिंदू धार्मिक संप्रदाय की देखरेख की जाएगी।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि एक मुद्दा जो कभी-कभी दो समुदाय के बीच विवाद और वैमनस्य पैदा कर देती है, जब कुछ लोग गौ हत्या करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गोकशी की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए और दोषियों पर सख्त और जल्दी कार्रवाई के लिए ऐसे सभी मामलों की सुनवाई फास्ट कोर्ट में करने का निर्णय लिया गया है।

साथ ही अगर गौ रक्षा के लिए सरकार की ओर से बनाए गए संरक्षण और संवर्धन कानून में संशोधन करने की आवश्यकता होती है, तो उसका भी समाधान किया जाएगा।

खट्टर ने यह भी कहा की राज सरकार द्वारा समुदाय के बीच आपसी भाईचारा सामाजिक सद्भाव बनाए रखने की जिम्मेदारी है, और इसके लिए विभिन्न कदम भी उठाए जा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि देश प्रदेश समाज हम सभी का है।

इस बात की याद हम सब को रखने की जरूरत है। शरारती तत्वों द्वारा की गई किसी अप्रिय घटना के लिए पूरे समाज को को गलत ठहराना सही नहीं है, और उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया की सोशल मीडिया के दौरान भी हमें इस बात की सतर्कता बरतनी चाहिए और इसका प्रयोग सकारात्मक दृष्टिकोण के लिए करना चाहिए।

Written by – Ankit Kunwar

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More