HomeLife StyleHealthसरकारी अस्पताल में नही चुकानी होगी प्लाज़्मा की कीमत निजी में लगेंगे...

सरकारी अस्पताल में नही चुकानी होगी प्लाज़्मा की कीमत निजी में लगेंगे इतने पैसे

Published on


फरीदाबाद के जिला उपायुक्त द्वारा लघु सचिवालय की छठी मंजिल स्थित सभागार में बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेस का आयोजन किया गया इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जिला उपायुक्त ने बताया कि जिले में कोरोना का संक्रमण कमजोर होता जा रहा है।

गंभीर मरीजों की संख्या में गिरावट आई है। संक्रमितों के दोगुने होने की रफ्तार बढ़कर 26 दिन हो गई है। वहीं ठीक होने की दर बढ़ गई है।

सरकारी अस्पताल में नही चुकानी होगी प्लाज़्मा की कीमत निजी में लगेंगे इतने पैसे

उन्होंने कहा कोरोना के इलाज में प्लाज्मा थेरेपी से इलाज के सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। ईएसआइसी मेडिकल कालेज अस्पताल में प्रदेश का पहला प्लाज्मा बैंक बनाया गया है।

ईएसआइसी मेडिकल कॉलेज के अलावा मरीज अन्य किसी भी अस्पताल में प्लाज्मा नहीं दे सकते हैं।

सरकारी अस्पताल में नही चुकानी होगी प्लाज़्मा की कीमत निजी में लगेंगे इतने पैसे

अब कोरोना से ठीक होने वालों को प्लाज्मा देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। अब तक करीब 80 से अधिक लोग प्लाज्मा दे चुके हैं।

सरकारी अस्पतालों में दाखिल मरीजों को प्लाज्मा निशुल्क दिया जाता है तथा निजी अस्पतालों में दाखिल मरीजों के लिए सरकार ने रेट निर्धारित किए गए हैं।

इसके अलावा मरीजों को प्लाज्मा के परेशान नहीं होना पड़े, इसके बड़े स्तर पर एंटी बाडी सर्वे चलाया जाएगा।

इसमें उन लोगों की पहचान की जाएगी, जिन्हें कोरोना हुआ था और बिना इलाज के ही ठीक हो गए

लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी हिदायत दी कि जिले में किसी लैब या प्राइवेट अस्पतालों की लैब में प्लाज़्मा निकाला गया तो क़ानूनी कार्यवाही की जाएगी ।

सरकारी अस्पताल में भर्ती मरीज के लिए 8 हजार 500 रुपये राज्य सरकार ने तय किये हैं ।किसी भी प्लाज़्मा डोनर से रेडक्रॉस संपर्क करेगी ।इसके बाद के सारे काम ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज कर लेगा ।

वही पर प्लाज़्मा दान किया जा सकेगा जो प्लाज्मा बैंक में जमा होगा उन्होंने कहा कि हमने अभी बेहद छोटा ज़ीरो सर्वे करवाया था अब हम इसे बहुत बड़े व्यापक स्तर पर करने की तैयारी में है

पिछले 4 सप्ताह के आंकड़े बताते हैं कि गुरुनाथ काफी हद तक नियंत्रण की स्थिति में आ चुका है अगर हम आंकड़े की बात करते हैं तो वह पढ़ नहीं रहे हैं फरीदाबाद का हम देखे तो सबसे ज्यादा आबादी वाला जिला यह है सबसे ज्यादा मूवमेंट हमारे यहां उद्योगों की वजह से होती है

Latest articles

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...

More like this

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...