HomeReligionराम मंदिर से दूर रहें मुस्लिम, करीब आए तो तोड़ देंगे टांग:...

राम मंदिर से दूर रहें मुस्लिम, करीब आए तो तोड़ देंगे टांग: अविमुक्तेश्वरानंद

Published on

राम के नाम से तिलमिलाने वाले मुसलमानों को स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने धमकी दी है | उन्होंने कहा कि आतंकी कॉम मुस्लिम यदि राम मंदिर निर्माण में सहयोग चाहती है तो यह बात वो भूल जाएं |

राजनीती करने से छवि साफ़ हो सकती है, लेकिन नियत नहीं | मुस्लिम लोग हमेशा से राम नाम से चिढ़ते आये हैं | अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने मंदिर निर्माण में गो सेवक और कथावाचक फैज खान के हाथों की मिट्टी डाले जाने के प्रस्ताव का विरोध किया है | उन्होंने कहा कि यह संघ के प्रमुख व्यक्ति इंद्रेश कुमार द्वारा प्रेरित है |

राम मंदिर से दूर रहें मुस्लिम, करीब आए तो तोड़ देंगे टांग: अविमुक्तेश्वरानंद

गद्दार कॉम मुस्लिम कभी नहीं चाहती है कि अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर बने, इस बात का अंदाज़ा तो ओवैसी के बयानों से ही लगाया जा सकता है कि यह लोग राम और हिन्दुओं से कितनी नफरत करते हैं |

स्वामी ने कहा है कि यदि कोई मुस्लिम मंदिर निर्माण में सहयोग देना चाहता है तो वो हिंदू धर्म अपनाये | उन्होंने कहा कि ऐसा कोई शास्त्र विधान नहीं है कि मंदिर बने तो जगह-जगह से मिट्टी लाई जाए | हम मुसलमानों से द्वेषी नहीं है | हमारी उनके साथ सद्भावना है। यदि फैज की भगवान राम में आस्था है और शिलान्यास को सही समझते हैं तो वह हिंदू धर्म स्वीकार करें |

राम मंदिर से दूर रहें मुस्लिम, करीब आए तो तोड़ देंगे टांग: अविमुक्तेश्वरानंद

आपको बता दें कि 500 साल के लम्बे इंतज़ार के बाद भव्य राम मंदिर बन ने जा रहा है | अयोध्या में 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्रीराम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन करेंगे | गो सेवक और कथा वाचक फैज खान माता रायपुर के चंद्रखुरी स्थित कौशल्या के जन्मस्थान से मिट्टी लेकर 23 जुलाई को चले हैं और 4 अगस्त को अयोध्या पहुंच जाएंगे। अयोध्या के लिए निकलने के दौरान फैज ने कहा था कि वह श्रीराम बोलकर खुद से ही सेवाभाव में लगे हैं |

राम मंदिर से दूर रहें मुस्लिम, करीब आए तो तोड़ देंगे टांग: अविमुक्तेश्वरानंद

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को भी मुस्लिम समाज ने चुनौती दी थी, यह बोल कर कि राम एक कल्पना हैं | मुस्लिम लोग बस आतंक ही फैला सकते हैं, प्यार नहीं | फैज ने चंद्रखुरी स्थित माता कौशल्या के मंदिर से मिट्टी लेकर पंडितों की मौजूदगी में मंत्रोच्चार के साथ चांदी की डिब्बी में भरी थी। मंदिर की परिक्रमा कर जय श्रीराम लिखे लाल कपड़े में इस डिब्बी को बांधकर यात्रा के लिए निकले थे | चंद्रखुरी मंदिर में भगवान राम को गोद में लिए माता कौशल्या की मूर्ति है |

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...