Pehchan Faridabad
Know Your City

कोविड की जांच बढ़ने से फरीदाबाद में मरीजों को गंभीर होने से पहले मिल रहा इलाज

कोरोना महामारी का डर सभी के दिलों में है | देश हो या प्रदेश कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है| महामारी अपना प्रसार खूब तेजी से कर रही है | फरीदाबाद में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ विभाग ने सैंपलिग क्षमता को बढ़ाया है | इसका सकारात्मक प्रभाव अब गंभीर मरीजों की संख्या में कमी के रूप में सामने आ रहा है |

सैंपलिग बढ़ने से कोरोना संक्रमितों की पहचान शुरुआत में ही हो रही है | इससे वक्त पर इलाज मिलने से संक्रमण पर काबू पा लिया जा रहा है |

फरीदाबाद में कोरोना जांच बढ़ने से, मरीज नहीं हो रहे हैं गंभीर

देश में महामारी विक्राल रूप ले चुकी है | जिले वासी जिस प्रकार महामारी कर रहे हैं, उस से जिले में भी खतरा मंडरा रहा है | स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, एक लाख की आबादी में साढ़े चार हजार से अधिक लोगों की सैंपलिग हो रही है | महामारी कोरोना का डर फरीदाबाद वालों के दिल से खत्म हो रहा है |

जिले की एनआईटी 1 मार्किट में लोग यूँ अपने कदम पसार रहे हैं कि मानों कोरोना एक छोटा सा बच्चा है जिसको डांट लगा के सीधा कर लेंगे | स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना की नागरिक अस्पताल की आइडीएसपी लैब व ईएसआइसी मेडिकल कॉलेज के अलावा कोरोना संक्रमण वाले क्षेत्रों में सैंपलिग हो रही थी | इससे सैंपलिग प्रक्रिया बहुत ही धीमी थी | वहीं अब कई प्रमुख स्वास्थ्य केंद्रों एवं आरडब्ल्यूए के सहयोग से कोरोना जांच शिविर होने से सैंपलिग में तेजी आ गई है |

फरीदाबाद में जिस प्रकार लोग बेखौफ होकर घूम रहे हैं वे अपनों के साथ – साथ दूसरों को भी खतरें में डाल रहे हैं | एक सप्ताह पहले 28 जुलाई को महज एक लाख लोगों में महज 2086 लोगों की सैंपलिग हुई थी | वहीं 30 जुलाई को सैंपलिग बढ़कर 2580 पहुंच गई, जबकि 31 जुलाई को ये आंकड़ा बढ़कर 4169, एक अगस्त को 4391 और दो अगस्त को बढ़कर 4579 हो गया |

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More