HomeReligionजन्मोत्सव में शिरकत नहीं कर सकेंगे कृष्णभक्त नंदलाल के लाइव होंगे दर्शन

जन्मोत्सव में शिरकत नहीं कर सकेंगे कृष्णभक्त नंदलाल के लाइव होंगे दर्शन

Published on

कोरोना महामारी के कारण इस बार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भी आॅनलाइन मनाने की तैयारी चल रही है। इस्कॉन मंदिर के प्रबंधकीय कमेटी के सदस्य मनीष चौहान ने बताया कि हर वर्ष कृष्ण जन्माष्टमी पर होने वाले आयोजन में लगभग 75 हजार लोग हिस्सा लेते थे।

लेकिन इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए मंदिर की प्रबंधकीय कमेटी ने सभी आयोजन को आनलाइन करने का फैसला किया है। सभी आयोजनों का प्रसारण यूट्यूब चैनल के माध्यम से किया जाएगा। सुरक्षा के कारण इस बार मंदिर के पुजारी ही केवल पूजा में शामिल होंगे। अन्य किसी बाहरी व्यक्ति को मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

यूट्यूब चैनल पर प्रसारित होगा आयोजन

भगवान कृष्ण के अभिषेक, झांकी और हवन-पूजन व जन्मोत्सव का आयोजन शाम पांच से रात 12.30 बजे तक चलेगा। जिसका सजीव प्रसारण मंदिर के यूट्यूब चैनल पर किया जाएगा। सभी श्रद्धालु इस बार आॅनलाइन ही भगवान का झांकी दर्शन करेंगे।
सेक्टर 37 स्थित इस्कॉन मंदिर में 12 अगस्त को वर्चुअल जन्माष्टमी मनाने की तैयारी है

मंदिर गोपेश्वर ने बताया कि 12 अगस्त की सुबह 4:30 बजे सुबह 12:00 बजे तक वर्कशॉप जन्माष्टमी मनाई जाएगी उसका प्रसारण फरीदाबाद समेत दूसरे शहरों के लोग इस्कॉन मंदिर के फेसबुक पेज में यूट्यूब के जरिए देख सकेंगे

उन्होंने बताया कि आरती महा विषयक भोग और अर्पण कृष्ण कथा भजन आरती आदि का ऑनलाइन प्रसारण किया जाएगा कृष्ण भक्ति सभी अपने घरों पर बैठकर भगवान कृष्ण की आरती और अपने घर के कृष्ण भगवान को पालने में झूला सकते हैं

इसके लिए पहले से पंजीकरण करना होगा कृष्ण जन्माष्टमी को धूमधाम से मनाने के लिए सूरजकुंड रोड स्थित श्री सदाता लक्ष्मीनारायण दिव्य धाम में भी तैयारियां शुरू कर दी गई है मंदिर के बाहरी हिस्सों को रोशनी से सजाया जा सकता है

श्री सिध्दाता आश्रम के स्वामी पुरुषोत्तम आचार्य महाराज ने बताया कि मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रशासन के आदेशा अनुसार वर्जित है अन्यथा जब तक जिला प्रशासन द्वारा कोई नए आदेश नहीं दिए जाते तब तक भक्तजनों को मन मंदिर की वजह घर में रहकर ही कृष्ण जन्माष्टमी मनानी होगी

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...