HomePoliticsहरियाणा में ग्रामीण सरपंच चुनाव की तैयारी हुई पूरी 5 सालों के...

हरियाणा में ग्रामीण सरपंच चुनाव की तैयारी हुई पूरी 5 सालों के कार्यो की होगी समीक्षा

Published on

हरियाणा में ग्रामीण सरपंच चुनाव के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है, हर एक गांव को उनके अनुसार सभी को आरक्षित कर दिया गया है। ऐसे में बीते 5 सालों में सरपंच द्वारा गांव कितना काम करवाया गया है यह तो आने-वाले चुनाव में ही गांव के लोग इसका आकलन करेंगे.

ऐसे में ही तिगांव विधानसभा के गांव चांदपुर के गांव का जायजा किया गया और यह जाना कि बीते 5 सालों में यहां के सरपंच ने गांव के विकास के लिए किस तरह के कार्य करवाएं और गाँव वालों को किस-किस तरह की सुविधाएं मिली हुई है।

हरियाणा में ग्रामीण सरपंच चुनाव की तैयारी हुई पूरी 5 सालों के कार्यो की होगी समीक्षा

गांव में रहने वाले लोगों से गांव में सरपंच के कामकाज की बात की गई, तो गांव के लोगों ने बताया कि सरपंच ने गांव में बहुत अच्छे काम करवाए हैं चाहे वह गांव की गलियां हो या गांव में बनने वाले बरात घर, सरपंच ने गांव की गलियों को पूरी तरह से दुरुस्त कर दिया है, गाँव की सभी गलियों में इंटरलॉकिंग टाइल्स लगी हुई है, गांव की मुख्य सड़क भी कही से टूटी नही है।

सरपंच चुनाव 2020

वहीं जब गांव का जायजा खुद लिया गया तो गांव में बारात घर, बाल्मीकि समाज के लिए चौपाल भी बना हुआ है जो गांव के लोगों की मुख्य मांग होती है, सभी घरों में पानी की व्यवस्था के लिए पानी की लाइन भी डाली गई है।

गांव में नालियां भी सरपंच द्वारा बनवा दी गई है वही गांव में सीवर लाइन की बात करें तो उसकी भी सुविधा गांव में सभी को दी गई है वहीं गांव के सरपंच ने भी बताया कि उनका गांव बहुत छोटा है, लेकिन उनका सौभाग्य है कि गांव के लोगों द्वारा की गई मांग को उन्होंने पूरा कर दिया है।

अगर छोटी मोटी कुछ चीजें छूट गई है, तो उसे भी जल्द पूरा कर दिया जाएगा। सरपंच ने बताया कि उनका गांव छोटा सा होने की वजह से उनके गांव में अपना कोई ज्यादा फंड नहीं है

अगर गांव में कुछ विकास कार्य करवाने होते हैं तो उन्हें मंत्रियों के सहारे रहना पड़ता है मंत्रियों के फंड से ही गांव में विकास कार्य करवाया जाता है लेकिन सरपंच द्वारा गांव में विकास करवाने में कोई कमी नहीं छोड़ी, जहां तक हो सका उन्होंने गाँव मे सभी कार्य करवाए हैं, जो गांव सभी लोगों को जरूरत होती है जैसे चाहे वह गलियों का बनाना हो,

हरियाणा में ग्रामीण सरपंच चुनाव की तैयारी हुई पूरी 5 सालों के कार्यो की होगी समीक्षा

नालियों का बनना हो गांव का मुख्य सड़क बनवाना हो, गांव में बारात घर या चौपाल, पानी की पूरी तरह से व्यवस्था करवाना या सीवर लाइन डलवाना, इन सभी कार्य को उन्होंने अपने 5 साल में करवा दिया है पर जो कार्य अभी छूटे हुए हैं अगर उन्हें एक बार और मौका मिलता है तो उन्हें भी वह कार्य करवा देंगे

सरपंच के गांव में किए गए कार्य को भी गांव की महिलाओं ने सहारा है, गांव की महिलाओं का भी कहना है कि गांव के पहले सरपंच ने भी इतना काम नहीं करवाया होगा। जितने काम अभी के सरपंच ने करवाए है पहले के सरपंच ने गांव के विकास कार्य की तरफ कभी ध्यान नहीं दिया

पहले के सरपंच ने ना तो गलियों को बनाने में ध्यान दिया और ना ही बरात घर या चौपाल बनवाने के लिए कभी प्रस्ताव रखवाया हो। लेकिन अभी के सरपंच ने वह सारी चीजें कर दिखाएं ओर इन 5 सालों में वे सारी चीजें गांव वालों को मिलने लगी जिन्हें उनकी जरूरत थी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...