Pehchan Faridabad
Know Your City

DAV कॉलेज फरीदाबाद में ऑनलाइन फेसबुक पर कोर्सेज की चर्चा कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया ।

डीएवी शताब्दी कॉलेज फरीदाबाद में नए सत्र में प्रवेश पाने के लिए इच्छुक छात्र छात्राओं की कोर्स के चयन को लेकर होने वाली समस्याओं का समाधान करने के लिए ऑनलाइन फेसबुक पर कोर्सेज की चर्चा कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया ।

इस कार्यक्रम में प्रतिदिन अलग-अलग कोर्स के विषय में वांछनीय शैक्षिक योग्यता, फीस, कोर्स के माध्यम से कैरियर काउंसलिंग, पाठ्यक्रम, कोर्स से जुड़े शिक्षकों का परिचय आदि अनगिनत बिंदुओं पर प्रकाश डाला गया | ना केवल शिक्षा बल्कि शिक्षणोत्तर गतिविधियों जैसे खेल, कला, एनसीसी, एनएसएस, वाईआरसी आदि पर भी जानकारियां उपलब्ध कराई गई |

इस कार्यक्रम के माध्यम से नए छात्रों के साथ प्रवेश प्रक्रिया, प्रवेश हेतु वांछनीय विवरण पत्र एवं प्रमाण पत्र तथा प्रवेश लेते समय ध्यान रखने योग्य बातों पर भी विस्तार से चर्चा की गई| सभी कोर्सेज के हेड एवं डीन के दिशा निर्देशन में शिक्षकों की पूरी टीम ने पीपीटी के माध्यम से बड़ी सरलता से छात्र एवं उनके परिजनों की परेशानियों का जवाब दिया |

कॉलेज की कार्यवाहक प्राचार्या डॉ सविता भगत के कुशल नेतृत्व में और सभी कोर्सेज की ओवरऑल कोऑर्डिनेटर डॉ अर्चना भाटिया के प्रयास से इस विषम परिस्थिति में भी छात्रों के हित को ध्यान में रखते हुए उनके प्रवेश संबंधी समस्याओं का उचित रूप से समाधान करने के लिए इस ऑनलाइन परिचर्चा का आयोजन किया गया |

इस कार्यक्रम के माध्यम से बीकॉम एस ऍफ़ एस, बीकॉम पास कोर्स, बीबीए, बीसीए, बीएससी, बी ए आदि कोर्स एवं स्पोर्ट्स, इमा, एनएसएस, एनसीसी, वाईआरसी आदि अन्य गतिविधियों के बारे में विस्तारपूर्वक समझाया गया | कॉलेज के द्वारा चलाए गए इस कार्यक्रम से ना केवल फरीदाबाद बल्कि दिल्ली एन सी आर एवं अन्य राज्यों के छात्रों ने भी लाभ उठाया |

प्रत्येक परिचर्चा के उपरांत छात्रों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का भी उचित जवाब दिया गया| कॉलेज के इस मुहिम में प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में छात्रों और उनके परिजनों ने हिस्सा लिया| इस परिचर्चा की संचालिका डॉ अंकुर अग्रवाल के साथ पूरी तकनीकी टीम प्रमोद कुमार, दिनेश कुमार, प्रिया कपूर एवं ऋतू सचदेवा का कुशल संचालन में सहयोग रहा |

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More