HomeEducationदेश में बचे हैं केवल इतने हजार हाथी और उनसे जुड़ी कुछ...

देश में बचे हैं केवल इतने हजार हाथी और उनसे जुड़ी कुछ रोमांचक बातें

Published on

देश में बचे हैं केवल इतने हजार हाथी और उनसे जुड़ी कुछ रोमांचक बातें आज हम बताने जा रहे है। हर साल 12 अगस्त को ‘ विश्व हाथी दिवस’ के रूप में मनाया जाता है| यह दिवस एशियाई और अफ्रीकी हाथियों की दुर्दशा के बारे में जागरूकता पैदा करने और ध्यान आकर्षित करने के लिए मनाया जाता है| इस दिन को पहली बार 12 अगस्त 2012 में लांच किया गया था|

यह दिवस हाथियों के संरक्षण, गैर-कानूनी शिकार और तस्करी रोकने के उद्देश्य में मनाया जाता है| इसके साथ ही आज के दिन का मकसद हाथियों की सुरक्षा और उनके जीवन को बेहतर बनाने के लिए किया जा रहे हैं उपाय और कार्यक्रमों के प्रति लोगों को जागरूक करना भी है|

देश में बचे हैं केवल इतने हजार हाथी और उनसे जुड़ी कुछ रोमांचक बातें

तेजी से घटते जंगलों और जानवरों के बीच जाकर इंसानों ने रिजॉर्ट्स वह बंगला बनाने लेने के चलते जानवर और इंसान की रिश्ते पहले जैसे मदद नहीं रहे| इंसान जंगलों तक पहुंच गया है जानवर और इंसानों की बस्तियों में दिखने लगे हैं|

हाल ही में जून 2020 में केरल से इंसानियत को शर्मसार आप दिल को दहलाने वाली खबर सामने आई थी, जिसमें कुछ शरारती तत्वों ने एक गर्भवती हथनी को पटाखों से भरा अनानास खिला दिया था जिस कारण वर्ष और उसके बच्चे दोनों की मृत्यु हो गई थी|

आए दिन इंसानियत को शर्मसार करने वाली ऐसी घटनाएं सामने आती हैं| ऐसा करने वाले बहुत ही कम लोगों को सजा हो पाती है| किसी जानवर को नुकसान पहुंचाना या उसे मार डालना अपराध की श्रेणी में आता है | वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन 1972 के तहत जानवरों को मारने पर 3 साल तक की सजा और ₹25000 तक का जुर्माना हो सकता है |दोबारा ऐसा करने पर 7 साल की सजा हो सकती है|

देश में बचे हैं केवल इतने हजार हाथी और उनसे जुड़ी कुछ रोमांचक बातें

बता दे की देश में 2017 में आखिरी बार हाथियों की गिनती की गई थी| उस गणना के अनुसार भारत में 30,000 से ज्यादा हाथी है| लेकिन धीरे-धीरे इनकी संख्या कम होती जा रही है|

हाथी से जुड़ी कुछ रोमांचक बातें

  • हाथियों को एक था और प्रेम का पर्याय माना जाता है क्योंकि यह अकेले नहीं बल्कि छोड़ो और परिवार के संग रहना पसंद करते हैं|
  • हाथियों का दिमाग सबसे बड़ा होता है 12 मील दूर से पानी की कमी महसूस कर सकते हैं, और इन्हें खतरे का आभास पहले ही हो जाता है यह अपनी चाल बदल देते हैं|
  • हाथी बहुत मस्त मौला होते हैं यह खेलना पसंद करते हैं और बिना यह किसी को तंग नहीं करते और यही वजह है कि बच्चे भी ने बहुत प्यार करते हैं|
  • हाथियों का वजन लगभग 5000 किलो तक होता है|
  • जन्म के 20 मिनट बाद ही हाथी का बच्चा खड़ा हो जाता है हाथी दिन भर में 150 किलो खाना खा सकता है|

आज के समय में भी अनेक हाथीयों को एक पालतू जीव के रुप में प्रशिक्षित किया जा रहा है। लेकिन हाथी को पकड़ना काफी कठिन कार्य है। यद्यपि हाथी एक शांत स्वभाव का जीव है लेकिन जब इसे परेशान या फिर इस पर हमला किया जाये तो यह काफी खतरनाक बन जाता है।

WRITTEN BY -POOJA SOLANKI

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...