HomeLife StyleEntertainment2 महीने बाद फरीदाबाद में पूरा हुआ सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा...

2 महीने बाद फरीदाबाद में पूरा हुआ सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा सपना

Published on

2 महीने बाद फरीदाबाद में पूरा हुआ सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा सपना :- सपनों की नगरी मुम्बई में देखा गया सुशांत सिंह राजपूत का सपना आज हजारों किलोमीटर दूर फरीदाबाद में सांसे मुहिम के द्वारा पूरा हो गया, सुशांत सिंह ने अपनी ड्रीम बुक में लिखा था कि वो अपने जीवन में 1000 पौधे लगाकर उनकी देखभाल करना चाहते हैं,

दुर्भाग्यवश ये सपना पूरा नहीं हो पाया, मगर आज साॅसे मुहिम के तहत फरीदाबाद की कई समाजसेवी संस्थाओं ने मिलकर पौधे लगाने वाले सुशांत सिंह के सपने को आज साकार कर दिया, फरीदाबाद बीके चौक के समीप दशहरा मैदान में सैंकडों पौधे लगाकर उनके सपने की शुरूआत की और अब पूरे शहर में करीब 2 हजार पौधे लगाये जायेंगे।

2 महीने बाद फरीदाबाद में पूरा हुआ सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा सपना

इस दौरान फरीदाबाद के युवाओं ने सुशांत सिंह राजपूत की आत्मशांति के लिये पहले हवन यज्ञ किया और फिर उन्हें श्रद्वांजली अर्पित की।

सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा सपना

इस दौरान साॅसे मुहिम के संस्थापक जसवंत पवार ने बताया कि सुशांत सिंह राजपूत की ड्रीम बुक में कई सपने थे जिसमें से एक सपना वह 1000 पौधे लगाना चाहते थे मगर नहीं लगा पाये इस लिये आज हमने उनके सपनो को पूरा करने का एक प्रयास किया है जिसकी शुरुवात में आज फरीदाबाद बीके चौक के समीप दशहरा मैदान में दिव्यांगत आत्म की शांति के लिए हवन यज्ञ व श्रद्धांजलि अर्पित कर त्रिवेणी(नीम, पीपल, बाढ़) , पंचवटी लगाकर पौधरोपण की शुरुआत की गई।

2 महीने बाद फरीदाबाद में पूरा हुआ सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा सपना

जिसके अंतर्गत आज 200 पेडों को लगाया गया लगाया गया है और अगले 7 दिनों में उनके 1000 पौधे लगा दिए जाएंगे यही सांसे मुहिम की ओर से उनको सच्ची श्रद्धांजलि है सांसे मुहिम का एक ही लक्ष्य है कि हर व्यक्ति अपने जीवन में एक पौधा लगाएं और उसकी देखभाल वृक्ष बनाएं

पौधारोपण में शामिल समाजसेवी संस्था जज्बा फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं साँसे मुहीम युवा संयोजक हिमांशु भट्ट ने कहा कि बहुत खुशी है कि आज सुशांत सिंह का सपना फरीदाबाद के युवाओं ने पूरा किया है, इसी के साथ साथ हम सभी युवाओ की सरकार व प्रसाशन से ये मांग है कि उनके केस में जल्द कोई न कोई फैंसला आये ताकि देश के युवाओं को जानकारी मिल सके कि आखिर सुशांत के साथ क्या हुआ था।

2 महीने बाद फरीदाबाद में पूरा हुआ सुशांत सिंह राजपूत का अधूरा सपना

इसके साथ साथ आज हमें पर्यवारण के प्रति जागरूक होना बहुत जरुरी है क्योंकि सांसे कम हो रही हैं लोग अपने बच्चों के भविष्य के लिये बहुत कुछ एकत्रित करके जाते हैं मगर सांसों का इंतजाम कोई नहीं करता। जो कि हमें पौधे लगाकर करना चाहिये

इस पर्यावरण हित कार्य में संस्कार फाउंडेशन से परमिता चौधरी, सतत प्रयास से डॉक्टर सीमा भारद्वाज, रेनू चौधरी, पूनम सिनसिनवार, चांदनी आजाद अली, सुषमा यादव, अर्जुन, अमर, चंद्रपाल, दीपक आजाद, सुमित पांचाल, हिमांशु भट्ट, गौरव, हेमंत, राहुल, किशन, शुभम, सपना, काजल, नर्वदा, सेफाली आदि का योगदान रहा।

Latest articles

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

Haryana के इस शख्स ने किया Bollywood के सुपरस्टार ऋतिक रोशन के साथ काम, इससे पहले भी कर चुके है कई फिल्मों में काम

प्रदेश के युवा या बुजुर्ग सिर्फ़ खेल या शिक्षा के मैदान में ही तरक्की...

More like this

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...