Pehchan Faridabad
Know Your City

आजादी के अवसर पर देश की बेटियों को नमन करते हुए बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह दिल्ली में प्रतिष्ठित लाल किले से अपना लगातार सातवाँ स्वतंत्रता दिवस भाषण दिया|और साथ ही महिला सशक्तिकरण के लिए अपनी सरकार के प्रयासों के बारे में बताया। जैसा ही उन्होंने सैनिटरी पैड का उल्लेख किया, सोशल मीडिया पर कई लोगों ने मासिक धर्म के खिलाफ वर्जना तोड़ने में एक कदम आगे बढ़ने के लिए उनकी प्रशंसा की।

,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्य काल को बताते हुए कहा की उन्होंने महिला सशक्तीकरण के लिए कई कार्य किये है। उन्होंने बेटियों को नमन करते हुए कहा की अब भारत की बेटियां भी बेटो के साथ कंधे से कन्धा मिलते हुए नौसेना और एयरफोर्स में अपना योगदान दे रही है ,अब महिलाएं नेता भी है | और साथ ही हमारी सर्कार ने महिलाओ को ट्रिपल तलाक से छुटकारा दिलाया है |

उन्होंने बताया की यह सरकार बेटियों और बहनों के स्वास्थ्य के बारे में लगातार चिंतित है। 6,000 जनश्रुति केंद्रों के माध्यम से, लगभग 5 करोड़ महिलाओं को 1 रूपए में सैनिटरी पैड बट्टे गए है । इसके अलावा, उनकी शादियों के लिए भी कमिटमेंट किया है ताकि पैसे का इस्तेमाल किया जा सके।”

उनके इतना कहते ही सोशल मीडिया टिप्पणी पर प्रतिक्रियाओं से भर गया |कई लोगों ने कहा कि एक राष्ट्र के प्रधानमंत्री के लिए एक राष्ट्रीय पते पर मासिक धर्म के बारे में बात करना दुर्लभ है।

एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने कहा, “5,000 से अधिक सैनिटरी पैड 6,000 जन अराध्या स्टोर्स के माध्यम से गरीब महिलाओं को दिए गए हैं। यह प्रोग्रेस का एक सरल और प्रभावशाली काम है।”

एक यूजर गुंजा कपूर ने लिखा: “पीएम @narendramodi लाल किले की प्राचीर से” सेनेटरी नैपकिन “के बारे में बोलते हैं। वोक इंडियन्स, जो इंगित करता है कि प्रगतिशील सामाजिक बदलाव को कम मत समझना। यह बड़ा है – रूढ़िवादी भारतीय में एक मुख्यधारा की बातचीत का मासिक धर्म। । “

एक उपयोगकर्ता ने प्रश्न पूछते हुए कहा की “क्या अन्य देश महिलाओं की उपलब्धियों और व्यापक रूप से ऐतिहासिक मंच से सैनिटरी पैड प्रदान करने की बात करते हुए पीएम की कल्पना कर सकते हैं? यदि लोगों को यह प्रगतिशील और पथ-प्रदर्शक नहीं लगता है, तो क्या होगा ?

पीएम मोदी ने कोरोना वायरस महामारी के बीच लाल किले में महत्वपूर्ण समारोहों में एक घंटे से अधिक समय तक राष्ट्र को संबोधित किया।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More