Pehchan Faridabad
Know Your City

हरियाणवीं कलाकारों के लिए सुनहरा मौका, हर महीने 4 गाने होंगे रिलीज कैसे बने एल्बम का हिस्सा जानिए

फरीदाबाद। देश-दुनिया में हरियाणावीं कलाकारों और संस्‍कृति को बढ़ावा देने के लिए गुरुग्राम स्थित 4एस इंटरनेशनल की प्रोड्क्‍शन इकाई हुकूम का इक्‍का ने पूरे साल के लिए खाका तैयार किया है।  

अब हर महीने औसतन चार हरियाणवीं गानों को रिलीज किया जाएगा। हर हफ्ते हरियाणवीं गाने की धूम मचेगी। इसके लिए अभी से तैयारी शुरू कर दी गई है। इस गाने की शूटिंग प्रदेश के अलग-अलग लोकेशन पर होगी। जिससे वहां के लोगों को भी रोजगार मिल सके। सभी गानों को हुकूम का इक्‍का के ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर लांच किया जाएगा।

अगस्‍त से लेकर जनवरी 2021 के पहले सप्‍ताह तक 18 गाने रिलीज किए जाएंगे। इसमें हरियाणा से जुड़े विभिन्‍न संस्‍कृति, विचार और लोकगीत के साथ यहां के रहन-सहन, खान-पान और व्‍यवस्‍था को वीडियो एलबम के जरिये प्रदर्शित किया जाएगा। इसके लिए हरियाणा के प्रसिद्ध सिंगर बिंदर दानोदा, अमिल ढुल, अमित सैनी समेत अन्‍य हरियाणवीं सिंगरों को मौका दिया गया है। इसके अलावा इंदु फोगाट, रुपा खुराना जैसे उभरती कलाकारों को मौका दिया जा रहा है।
 
प्रोड्यूसर दीप सिसई ने बताया कि 4एस इंटरनेशनल हरियाणवीं कलाकारों को मंच प्रदान करने की कोशिश कर रही है। इसके लिए पूरे साल गाने रिलीज करने का प्‍लान बनाया है। इसमें पुराने कलाकारों के साथ नए उभरते कलाकारों को मौका दिया जाएगा। गाने लिखने, कंपोज करने से लेकर शूट करने तक सभी गतिविधियां हरियाणा के अलग-अलग जिलों में होगी। फिर इसे विभिन्‍न सोशल मीडिया और वीडियो शेयरिंग प्‍लेटफॉर्म के जरिये अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर रिलीज किया जाएगा।

उन्‍होंने बताया कि अभी तक 9 गाने रिलीज किए जा चुके है। जिसका रिस्‍पांस लाखों में मिला है।हाल ही में सिंगर अमित ढुल व मिस हरियाणा इंदू फोगट का नया हरियाणवीं गाना ‘मारै..गी के’ व एमटीवी स्प्लिट्सविला फेम रुपा खुराना का नया हरियाणवीं गाना ‘सूट गुलाबी बैन’ रिलीज  हुआ है।
 
उन्‍होंने बताया कि सितंबर महीने में चार गाने रिलीज करना प्रस्‍तावित है। इसमें सिंगर आर जे द्वारा गाया हुआ लाइफटाइम, सिंगर लकी ए द्वारा गाया हुआ टोरनैडो, अमित ढुल का गाना हुकूम का इक्‍का और महिला सिंगर रूचिका जांगिड़ द्वारा गाया गाना ना अ पीयूंगी रिलीज किया जाएगा। इसी तरह हर महीने गाने रिलीज करने पर काम किया जा रहा है। दिसंबर तक के लिए शेड्यूल तय हो गया है। 

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More