Pehchan Faridabad
Know Your City

परिवार पहचान पत्र के लिए सरकार ने पोर्टल पर सुविधा शुरू की है, जानिए कैसे करे परिवार का डाटा अपडेट

नागरिक संसाधन सूचना विभाग के प्रधान सचिव वी. उमाशंकर ने कहा कि परिवार पहचान पत्र का डाटा संपादित व संशोधित करने के लिए सरकार ने पोर्टल पर सुविधा शुरू की है, जिस पर कोई भी व्यक्ति अपने परिवार का डाटा स्वयं डाटा अपडेट कर सकता है या नजदीकी सीएससी सेंटर पर भी अपडेट संबंधी कार्य किया जा सकता है।

श्री उमाशंकर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी जिलों के अतिरित उपायुक्तों व उपमंडल अधिकारी (नागरिक) को निर्देश दिए कि परिवार पहचान पत्र के लिए सभी परिवारों का पंजीकरण करवाया जाए। जिन परिवारों ने पंजीकरण करवा दिया है, उनकी फील्ड वैरिकेशन का कार्य किया जाए। इसके लिए जरूरी संसाधन के साथ काम शुरू किया जाए।

उन्होंने बताया कि नागरिक पीपीपी में दर्ज अपनी पारिवारिक सूचना को अपडेट करने के लिए विभाग की वेबसाईट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट मेरा परिवार डॉट हरियाणा डॉट जीओवी डॉट ईन पर जाकर अपडेट फैमिली डिटेल कर सकते है। सरकार का प्रयास है कि भविष्य में सभी योजनाओं के लाभपात्रों को परिवार पहचान पत्र के माध्यम से ही लाभ दिया जाएगा। अगर किसी परिवार द्वारा अपना डाटा पोर्टल पर पंजीकृत करवा दिया गया है तो वह इस डाटा को पोर्टल पर जाकर एडिट भी कर सकता है।

अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान ने जिला में इस संबंध में किए जा रहे कार्यों की प्रगति के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जिला में व्यापक स्तर पर काम किया जाएागा। अतिरिक्त उपायुक्त ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के बाद अधिकारियों की मीटिंग ली, जिसमें परिवार पहचान पत्र के संबंध की जाने वाली कार्यवाही के बारे में जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि नागरिक स्वयं भी परिवार पहचान पत्र के लिए दर्ज डाटा को अपडेट या एडिट कर सकते हैं। इसके लिए वेबसाईट पर अपनी फैमिली आईडी से लाॅगिन करने के बाद परिवार के मुखिया के मोबाईल नंबर पर एक ओटीपी आएगा, उस ओटीपी को दर्ज करने के उपरांत फैमिली आईडी में पंजीकृत परिवार के सभी सदस्यों का डाटा दिखाई देगा। पीपीपी पृष्ठ में दर्ज परिवार के सदस्यों का विवरण गलत है तो उसे अपडेट किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि यदि परिवार की पारिवारिक संरचना क्षेत्र के सत्यापन प्रक्रिया के माध्यम से सिस्टम में पहले से ही सत्यापित हो चुकी है तो उसको आपको ठीक करने की अनुमति नहीं है। उन्होंने बताया कि परिवार की पारिवारिक संरचना अभी तक पीपीपी में सत्यापित नहीं है, तो नागरिक को परिवार के सदस्यों को जोडने या हटाने की अनुमति होगी। परिवार के सदस्य को हटाने के लिए एक अलग फार्म खुलेगा, जिसमें परिवार के सभी सदस्यों में से हटाए गए सदस्य जाने वाले सदस्य का नाम और आधार नंबर पूछा जाएगा। परिवार के सदस्य को हटाने की अनुमति केवल सत्यापन के बाद ही दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि फैमिली डाटा अपडेट करने उपरांत परिवार का काई भी सदस्य यदि पीपीपी क साथ एकिकृत किसी भी सेवा का लाभ उठाने के लिए सीएसएसी केंद अथवा लोकल कमेटी द्वारा आयोजित शिविरों में जाकर पीपीपी फार्म को प्रिंट करा सकता है और नागरिक द्वारा उसे हस्ताक्षर किए जाने के बाद इस वापस पीपीपी पोर्टल पर अपलोड किया जा सकता है। इससे फैमिली अपडेट की प्रक्रिया पूरी होगी। इस अवसर पर एसडीएम बल्लबगढ़ अपराजिता, एसडीएम फरीदाबाद जितेंद्र कुमार, एसडीएम पंकज सेतिया व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More