HomeFaridabadआफत की बारिश में राहत पहुंचा रहे पुलिस कर्मी

आफत की बारिश में राहत पहुंचा रहे पुलिस कर्मी

Published on

बारिश का मौसम भी काफी अजीब होता है, आता है तो सभी परेशान होते हैं नहीं आता तो भी सभी परेशान होते हैं। जिले में पिछले 2 दिनों से हो रही तेज बरसात के चलते पूरा शहर जलमग्न हो गया है आलम यह है कि पॉश सेक्टर हो या राष्ट्रीय राजमार्ग या फिर कालोनियां हर और पानी ही पानी भरा हुआ है। बारिश एक ओर जहां यातायात आवागमन में रुकावट बन रही है वहीं दूसरी ओर फरीदाबाद पुलिस पूरी जिम्मेवारी के साथ अपनी ड्यूटी पर डटी हुई है।

पुलिस जनता की सेवा के लिए होती है आज फरीदाबाद पुलिस ने दिखा दिया, क्योंकि चाहे वह गाड़ियों के लिए रास्ता खाली करवाना हो, बारिश में फंसे लोगों की मदद करना हो, बारिश मैं खराबी के कारण रास्ते में फंसी गाड़ी को साईड में लगाना हो या कानून व्यवस्था को बनाए रखना हो, पुलिस कर्मी हर सड़क चौराहे पर हौसले और जज्बे के साथ अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं।

आफत की बारिश में राहत पहुंचा रहे पुलिस कर्मी

फरीदाबाद में थोड़ी देर ही बारिश होती है तो स्विमिंग पूल सड़कें बन जाती हैं। पुलिस कमिश्नर ने जवानों का हौसला बढ़ाते हुए उनकी प्रशंसा की है। गौरतलब है कि 19 अगस्त व आज भी फरीदाबाद में भारी बारिश हो रही है जिसके कारण जगह जगह पर जलभराव के चलते लोगों को मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

आफत की बारिश में राहत पहुंचा रहे पुलिस कर्मी

बारिश का मौसम सुहावना तो होता ही है, लेकिन समस्या भी खड़ी कर देता है। बारिश के कारण लगे जाम की वजह से लोगों को अपने कार्यस्थल पर पहुंचने में देरी हुई यहां तक कि बहुत से लोग बारिश के चलते घर से बाहर भी नहीं निकल पाए वहीं दूसरी ओर फरीदाबाद पुलिस आमजन की मदद के लिए चौराहों और नाकों पर डटी रही। पुलिस कर्मचारी विकट परिस्थितियों में भी बारिश के पानी के अन्दर भी अपनी ड्यूटी निभाते रहे।

आफत की बारिश में राहत पहुंचा रहे पुलिस कर्मी

तस्वीरें सभी को पसंद होती हैं, लेकिन जिले से पुलिस कर्मियों की कुछ ऐसी तस्वीरें भी सामने आई जिन्हें देखकर उन्हें दिल से सलाम करने का मन करता है। भीगी हुई वर्दी और जूतों के अंदर ही पुलिस के जवान ट्रैफिक व्यवस्था को संभालते हुए नजर आए इसे देखकर हमारे भी मन में यह विश्वास जागा कि प्रकृति चाहे कितना भी कहर बरपा ले हमारी पुलिस हमारी सुरक्षा के लिए सदैव तैयार खड़ी है। पुलिस के प्रति लोगों की भावनाओं में भी सकारात्मक बदलाव देखने को मिला है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...