Pehchan Faridabad
Know Your City

महिलाओ की समस्याओं को समझा Women Power टीम ने हर महीने सैनिटरी पैड्स करेंगे वितरित ।

मासिक धर्म पर दूर करें अज्ञान
नारी शक्ति का करें सम्मान इन पंक्तियों को चरितार्थ किया Women’s Power की टीम ने जिन्होंने महिलाओं और लड़कियों की महामारी से संबंधित परेशानियों को समझा और हर महीने फ्री सैनिटरी पैड्स बांटने का अभियान शुरू किया।

महावारी जिसे महिलाओं के लिए अभिशाप समझा जाता है करीब 91% महिलाएं सैनिटरी पैड्स का यूज नहीं करती जिसके कई कारण हो सकते हैं। पहला आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण मार्केट में मिलने वाले महंगे सैनिटरी पैड्स ना खरीद पाने में असमर्थता।

दूसरा महिलाओं और लड़कियों में जागरूकता की कमी
तीसरा संकोच और शर्म की वजह से भी लड़कियां और महिलाएं सैनिटरी पैड्स मार्केट से नहीं खरीद पाती
WOMEN’S POWER की टीम ने महिलाओं और लड़कियों की द्वारा फ्री सैनिटरी पैड्स बांटने का अभियान सेक्टर 24, मुजेसर स्लम एरिया से पिछले महीने (जुलाई) 23. 7.2020 को शुरू किया गया था जिसमें वूमेंस पावर की टीम ने पहले 50 परिवारों को सैनिटरी पैड्स उपलब्ध कराए थे। इस महीने (अगस्त) 24.8.2020 को Women’s Power की टीम ने 10 और परिवारों को उस में जोड़ दिया और करीब 60 परिवारों को फ्री सैनिटरी पैड्स उपलब्ध कराए।

WOMEN’S POWER की प्रेसिडेंट चांदनी आजाद अली ने बताया कि यह टीम का परमानेंट प्रोजेक्ट है जिसमें वह हर महीने कम से कम 50 परिवारों को Sanitary Pads उपलब्ध कराएंगे और कोशिश करेंगे कि हर महीने करीब 10 परिवार इसमें नए ऐड हम कर दें। इसके अलावा Women’s Power की वाइस प्रेसिडेंट सुनीता रानी ने बताया कि अभी कोविड-19 के वजह से हम लोग ज्यादा बाहर नहीं जा पा रहे हैं जैसे ही कोविड-19 का असर कम होगा धीरे-धीरे हम आसपास के गांवों में सरकारी स्कूलों में जाकर भी सैनिटरी पैड्स फ्री में बाटेंगे। इसके अलावा और अलग-अलग एरिया में जाकर भी हम महिलाओं और लड़कियों को फ्री में सेनेटरी पैड उपलब्ध कराएंगे।

Women’s Power की सचिव रूपा बरनवाल और उप सचिव शकुन तोमर ने भी सैनिटरी पैड्स अभियान के बारे में कहा कि उनकी टीम का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा महिलाओं और लड़कियों को सेनेटरी पैड उपलब्ध कराना है और इसका इस्तेमाल ना करने से होने वाली परेशानियों और समस्याओं से अवगत कराना है।

माननीय श्री दीपक गुप्ता जिला सत्र न्यायाधीश व श्री मंगलेश कुमार चौबे सीजेएम DLSA फरीदाबाद के निर्देशानुसार अर्चना गोयल व पैनल एडवोकेट मनमीत कौर ने भी वूमेंस पावर के इस प्रोग्राम में भाग लिया उन्होंने महिलाओं को सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में समझाया और समय-समय पर अपने हाथ धोते रहने के महत्व को भी समझाया साथ ही जिला जेल में कैदियों द्वारा बनाए गए मास्क मुफ्त में वितरित किए Women’s Power टीम द्वारा किए जाने वाले कार्यों की भी उन्होंने सराहना की।

वूमेंस पावर के द्वारा किए गए फ्री सेनेटरी पैड के इस प्रोग्राम में प्रेसिडेंट चांदनी आजाद अली, वाइस प्रेसिडेंट सुनीता रानी, सचिव रूपा बरनवाल, उपसचिव शकुन तोमर, कोषाध्यक्ष सुमन भार्गव, इनके अलावा अर्पणा बरनवाल, किरण सोनी, सोनिया, निशा, अपरा तोमर, उर्जा बरनवाल, मेहविश परवीन, सरिता साजवान, अंचल कपूर, रेनू शर्मा, दीपा, आस्था और जारा खान ने भी बढ़ चढ़कर भाग लिया। माहवारी नहीं कोई भार है। ये तो प्रकृति का उपहार है

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More