Online se Dil tak

वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे

फरीदाबाद में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक सर्वे किया गया। इस सर्वे में फरीदाबाद के कुछ क्षेत्रों का दौरा किया गया खासकर की कंटेनमेंट जोन में।

इन कंटेनमेंट जोन में सर्वे करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की 407 टीम जुटी रही, परंतु सर्वे के दौरान बल्लभगढ़, नहर पार, ग्रेटर फरीदाबाद सहित सेक्टर 9- 10 और 7 में जैसे क्षेत्रों को शामिल ही नहीं किया गया था। यह सर्वे खासकर कंटेनमेंट जोन के बीच किया गया था, जिससे वहां किसी अन्य कोरोना मरीज की पुष्टि करने में आसानी हो सके।

वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे
वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे

ऐसे में फरीदाबाद के अन्य क्षेत्रों को सर्वे में ना शामिल करना फिर एक बार स्वास्थ्य विभाग के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। अगर कंटेनमेंट जोन में सर्वे करने के दौरान ही 6 नए मरीजों की पुष्टि हुई है, वही 5 मरीजों की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

तो जिन क्षेत्रों में अभी तक स्वास्थ्य विभाग का सर्वे नहीं गया किया गया है अगर ऐसे में उन क्षेत्रों में भी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की पहचान वंचित रह जाती है तो यह किसी बड़ी खतरे की घंटी की ओर संकेत कर रही है।

वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे
वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे

इस सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग को 6 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। वही अभी भी 5 लोगों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है। इन कंटेनमेंट जोन के सर्वे के लिए 407 टीमें लगाई गई थी।

पूर्ण जानकारी देने वाली उप सिविल सर्जन डा. गीता पालिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से गत 8 अप्रैल से कंटेनमेंट जोन में सर्वे का कार्य किया जा रहा है। इसके तहत घर-घर जाकर लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है।

वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे
वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे

उन्होने बताया कि अभी तक 743 मरीजों की पहचान कर, इनकी चिकित्सा जांच भी की गई। जांच के आधार पर 379 मरीजों का कोविड-19 के टेस्ट करवाकर सैंपल लिए गए, जिनमें से 368 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि 6 मरीज संक्रमित मिले। शेष पांच की रिपोर्ट का इंतजार है।

वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे
वास्तविकता से अछूता रह गया स्वास्थ्य विभाग का सर्वे, अधिकांश क्षेत्रों में जांच के लिए लोग तरसे

उन्होंने बताया कि सर्वे के दौरान घर घर जाकर टीमों ने हल्के फुल्के इंफेक्शन वाले लोगों को भी चिन्हित किया। उन्होंने बताया कि सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग की घर-घर जाकर सर्वे करने वाली टीम ने आमजन को संक्रमण के प्रति जागरूक करते हुए फेस मास्क और सोशल डिस्टेंस के महत्व से भी अवगत कराया।

Read More

Recent