Pehchan Faridabad
Know Your City

स्वयं सहायता समूहों की लगभग 200 महिलाएं बना रही है मास्क

फरीदाबाद : जिला में ग्रामीण आजीविका मिशन स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी महिलाएं कोरोना वायरस कोविड-19 राहत में बेहतर कार्य करके लोगों की प्रेरणा का स्रोत बन रहीं हैं। अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह ने बताया कि जिला में हरियाणा आजीविका मिशन के तहत एक हजार 100 महिला स्वयं सहायता समूह गठित हैं।

कोरोना वायरस कोविड-19 के लाक डाउन के मद्देनजर राहत कार्यों के लिए स्वयं सहायता समूहों की लगभग 200 महिलाएं मास्क तैयार करने में लगी हैं। स्वयं सहायता समूहों की ओर से तैयार करीब 20 हजार से ज्यादा मास्क जिला में गरीब और जरूरतमंद लोगो में महिलाओ द्वारा स्वयं बांटे गए हैं। इसी प्रकार करीब एक हजार 100 मास्क कृषि विपणन बोर्ड को दिए गए हैं, ताकि ये मास्क मण्डियो में फसल बेचने आ रहे किसानों तथा अन्य कार्यों में लगे लोगों को दिए जा सकें।


अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि ग्रामीण आजीविका मिशन से जुङी महिलाओ से प्रेरित होकर स्वच्छ भारत मिशन तथा अन्य विभाग भी कोविड-19 के मद्देनजर इन महिलाओं का अनुसरण कर रही हैं। उन्होंने बताया कि जेसीबी इण्डिया लिमिटेड द्वारा भी स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को 20 हजार मास्क तैयार करने के आर्डर दिया गया है।

ग्रामीण क्षेत्रों में आजीविका मिशन से जुडी हुई महिलाएं अपने आसपास के क्षेत्रों खासकर गरीब परिवारों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रेरित कर रही हैं और लाकडाउन के मद्देनजर सरकार द्वारा जारी हिदायतों की पालना करने तथा सोशल डिस्टेंसिंग बारे जागरूक कर लोगों को कोरोना वायरस से बचाव बारे प्रशिक्षित कर रही हैं।

उन्होंने बताया कि स्वयं सहायता समूहों से जुङी महिलाएं सरकार तथा समाज सेवी संस्थाओं और एनजीओ के प्रतिनिधियो के माध्यम से जरूरत मंद लोगो को भोजन के पैकेट तथा राशन वितरण करवाने मे भी भागीदार बन कर बेहतर कार्य कर रहीं हैं। उन्होंने बताया कि ये सभी महिलाएं आपसी तालमेल बनाने के लिए वाटशैप ग्रुप बनाकर कार्य कर रहीं हैं और जिला में सनेटाइजर व कोविड-19 के मद्देनजर राहत कार्यों और अन्य गतिविधियों बारे भी निरंतर प्रशासन का सहयोग कर रही है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More