HomeFaridabadपरीक्षा केंद्र से मुस्कुराकर लौटे छात्र, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए...

परीक्षा केंद्र से मुस्कुराकर लौटे छात्र, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दिखे सभी छात्र

Published on

आज से पूरे देश में प्रवेश परीक्षाओं का दौर शुरू हो चुका है। जेईई मेन परीक्षा के लिए फरीदाबाद में तीन केंद्र बनाए गए जहां पर टेस्ट का आयोजन किया गया। कोरोना काल के इस समय में परीक्षार्थियों को इस बार परीक्षा का रूप थोड़ा बदला हुआ मिला।

सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए दिशा निर्देश भी निकाले गए हैं। जहां हर बार यह परीक्षा प्रश्न पत्र के साथ आयोजित की जाती थी इस बार परिवर्तन होकर परीक्षा को ऑनलाइन करवाया गया। पहली बार परीक्षा छह दिन में संपन्न करवाई जाएगी।

परीक्षा केंद्र से मुस्कुराकर लौटे छात्र, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दिखे सभी छात्र

क्षेत्र में दाखिला परीक्षा के लिए तीन सेंटर बनवाए गए थे। यह सेंटर सेक्टर-20 बाटा चौक और जवाहर कॉलोनी के डिजिटल जोन में पड़े। सुरक्षा हेतु जिला प्रशासन ने नायाब तहसील दारों को बतौर ड्यूटी नियुक्त किया ताकी सब सामजिक दूरी का पालन कर दिशा निर्देशों को आसानी से समझ सके।

एग्जाम हॉल से खुश होकर लौटे छात्र

कोरोना काल में अपने घरों में कैद सभी छात्र परीक्षा के बाद काफी उत्साहित दिखे। विद्यार्थियों ने बताया कि उन्हें परीक्षा केंद्र में सैनिटाइजर, ग्लवस और मास्क भी मुहैया करवाए गए। इस तरीके से सभी छात्रों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया गया।

परीक्षा केंद्र से मुस्कुराकर लौटे छात्र, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दिखे सभी छात्र

आपको बता दें कि प्रवेश परीक्षाओं को लेकर विपक्षी दलों ने धरना प्रदर्शन किया और छात्रों की सुरक्षा पर सवाल उठाये थे। इसी के साथ बहुत से छात्र भी इस निर्देश के खिलाफ खड़े नज़र आए। सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर उन्होंने अपना रोष भी प्रकट किया पर कोर्ट ने उनकी याचिका को सिरे से खारिज कर दिया।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...