HomeGovernment10 रेनीवेल से एनआईटी में आने वाले पानी के गायब होने का...

10 रेनीवेल से एनआईटी में आने वाले पानी के गायब होने का पता लगाने के लिए नगर निगम करेगा सर्वे

Published on

सरकार ने 500 करोड़ रुपए खर्च कर यमुना के किनारे 10 रेनीवेल लगाए थे, ताकि लोगों की प्यास बुझ सके ।इन 10 रेनीवेल का कुछ सा पानी शहर की तरफ आता तो है लेकिन गायब हो जाता है यह नहीं पता चल रहा है पानी के अचानक बूस्टर तक न पहुंचने के कारण एनआईटी के कई इलाकों में दो या तीन दिनों तक पानी नहीं आता।

अब इस समस्या का पता लगाने के लिए नगर निगम प्राइवेट एजेंसी से रेनीवेल की लाइन नंबर 1 और 3 का सर्वे करवाएगा सर्वे में पता लगेगा कि यमुना किनारे रेनीवेल की स्थिति कैसी है क्या वहां पानी है अगर पानी है तो वह कैसे शहर में पहुंचता है और कितनी मात्रा में आता है इन सभी के लिए इंजीनियर ब्रांच प्राइवेट एजेंसी की तलाश में जुट गया है।

10 रेनीवेल से एनआईटी में आने वाले पानी के गायब होने का पता लगाने के लिए नगर निगम करेगा सर्वे

दो लाइनों में है ज्यादा दिक्कत

जवाहरलाल अर्बन रिन्यूवल मिशन के तहत सरकार ने 500 करोड रुपए खर्च करके 10 रेनीवेल का निर्माण किया था ताकि शहर के लोगों को साफ पानी मिल सके लाइन नंबर 1 और 3 में इस समय सबसे ज्यादा दिक्कत हो रही है इन दो लाइनों का पानी बूस्टर तक नहीं पहुंच पा रहा है लाइन नंबर 1 दूल्हेपुर में है

इससे हर रोज बल्लभगढ़ सेक्टर 25 जल घर में 20 एमएलडी पानी की सप्लाई होती है वहीं लाइन नंबर 3 मंझावली में यमुना किनारे हैं इससे हर रोज 40 एमएलडी पानी की सप्लाई होती है यहाँ से पानी सेक्टर 7 , 8 मुजेसर सेक्टर 24 चावला कॉलोनी सेक्टर 11 तिगांव सेक्टर 4 सेक्टर 3 के कुछ हिस्से में जाता है

10 रेनीवेल से एनआईटी में आने वाले पानी के गायब होने का पता लगाने के लिए नगर निगम करेगा सर्वे

एनआईटी पर्वतीय कॉलोनी जवाहर कॉलोनी प्रेस कॉलोनी जनता कॉलोनी डबुआ कॉलोनी में भी जाता है लेकिन पिछले कई सालों से इन इलाकों में बने बूस्टर तक रेनीवेल का पानी नहीं पहुंच पा रहा है वैसे नगर निगम दावा करता है इन दोनों रेनीवेल लाइन से पानी आ रहा है

लेकिन लोगों के घर तक नहीं पहुंच पा रहा है प्राइवेट एजेंसी यह पता लगाएगी कि यमुना किनारे किनारे से शहर के अलग-अलग बूस्टर जाने वाली लाइन नहीं में कोई दिक्कत तो नहीं है क्योंकि कई आरओ प्लांट चलाने वाले ने भी बड़ी लाइनों को लीक कर दिया है

इन दो क्षेत्रों में सबसे अधिक समस्या

जवाहर कॉलोनी पर्वतीय कॉलोनी जवाहर कॉलोनी खंड बी डबुआ कॉलोनी संजय कॉलोनी चाचा चौक क्षेत्र प्रेस कॉलोनी जनता कॉलोनी एनआईटी 5 दो एक 3 4 ग्रीन फील्ड दयालबाग शिव दुर्गा विहार खोरी सैनिक कॉलोनी संत नगर गांधी कॉलोनी सुभाष कॉलोनी चावला कॉलोनी त्रिखा कॉलोनी मुकेश कॉलोनी विंष्णु कॉलोनी हरि विहार।

वार्ड नंबर 6 के पार्षद सुरेंद्र अग्रवाल का कहना है कि वार्ड में पानी की समस्या लगातार बनी हुई है ऐसे में निगम को पानी की समस्या का समाधान खोजना चाहिए लोग इसके लिए रोजाना धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

उनको जवाब देना मुश्किल हो गया है वार्ड नंबर फ्री के पार्षद जयवीर खटाना का कहना है कि नगर निगम को इस समस्या का समाधान पहले ही कर लेना चाहिए था अब लोग पेयजल संकट से परेशान है तो निगम भारी एजेंसी से पानी सप्लाई की जांच की बात कर रहा है यह जांच तो निगम की इंजीनियरिंग ब्रांच को करनी चाहिए थी।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...