HomeCrimeना जाने किस मानसिक तनाव का शिकार हो रहे फरीदाबाद वासी ,आज...

ना जाने किस मानसिक तनाव का शिकार हो रहे फरीदाबाद वासी ,आज फिर सामने आये आत्म हत्या मामले

Published on

14 जून को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के  आत्म हत्या मामले के बाद आये दिन शहर में ऐसी घटना आम हो रही है । आत्म हत्या एक बेहद गंभीर मामला है ।जब इंसान अपनी जिंदगी से हर मान लेता है ,या किसी डिप्रेशन का शिकार हो जाता है तो इंसान आत्म हत्या जैसे संगिम मामले को अंजाम देने की सोचने लगता है ।

ना जाने किस मानसिक तनाव का शिकार हो रहे फरीदाबाद वासी ,आज फिर सामने आये आत्म हत्या मामले

आत्म हत्या एक जुर्म की सेंडी में आने वाला अपराध है ।अफ्रीका  और नाइजीरिया जैसी कंट्री में आत्म हत्या करने वालो को अपराधी माना जाता है ,और जो व्यक्ति आत्म हत्या करता है उस व्यक्ति की लाश को हाथ तक नही लगाया जाता ।

हाल ही में ऐसी खबरे फरीदाबाद शहर में ऐसी खबरे आम हो  रही है ।फरीदाबाद में आत्म हत्या सिलसिला रुकने का नाम नही ले रहा ।आज ही शहर से ऐसे ही 2 मामले सामने आए जिन्होंने सब को चुका दिया ।
पहला मामला बल्लबगढ़ सेक्टर 3 नहर में पुल के पास का है यहां पर सुबह 4 बजे के वक्त एक व्यक्ति नहर में कूद गया।

ना जाने किस मानसिक तनाव का शिकार हो रहे फरीदाबाद वासी ,आज फिर सामने आये आत्म हत्या मामले

स्थानीय लोगो ने इसकी शिकायत पुलिस को दी ।हालांकि की अभी व्यक्ति के शव की छानबीन करने अभी जारी है ।अभी व्यक्ति का शव बरामद नही हुआ है ।पुलिस के लिए व्यक्ति का शव बरामद करना थोडा मुश्किल हो रहा है ।शव मिलते ही आगे की कार्यवाही शुरू की जाएगी ।

ना जाने किस मानसिक तनाव का शिकार हो रहे फरीदाबाद वासी ,आज फिर सामने आये आत्म हत्या मामले

वहीं दूसरा मामला ओल्ड फरीदाबाद के सेक्टर 17 पुल का है । जहा पर आज ही के दिन एक युवती ने नहर में छलांग लगा दी हला की बताया जा रहा है समय रहते युवती को बचा लिया गया लेकिन एक ही दिन में दो ऐसे मामले अपने आप में सवाल खड़े करते है । की लोगो को क्या होता जा रहा कि अपनी जीवन लीला को समाप्त करने के लगे हुए है

ना जाने किस मानसिक तनाव का शिकार हो रहे फरीदाबाद वासी ,आज फिर सामने आये आत्म हत्या मामले

आये दिन ऐसे आत्म हत्या के मामले आना कहि न कही एक बहुत बड़ी मुसीबत को जन्म देता है ।अगर लोग इसी प्रकार से आत्म हत्या करते रहे तो वो दिन दूर नही जब हर व्यक्ति ज़िन्दगी की चोटी बड़ी समस्या को लेकर आत्म हत्या कर अपनी जिंदगी ख़तम करने लगेगा ।इसे एक घमबीर समस्या समझते हुए सरकार को इसके खिलाफ कोई ठोस एक्शन लेना चाहिए ताकि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाई जा सके।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...