HomePublic Issueपेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली...

पेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली पार्षद

Published on

पेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली पार्षद :- देश में कई ऐसे राज्य हैं जिसके दर्जनों जिले पेयजल की किल्लत से जूझ रहे हैं। वहां के बाशिंदों को पीने के लिए भी पानी मयस्सर नहीं। एक बाल्टी पानी के लिए कोसों दूर तक पैदल चलना पड़ता है। हम खुशनसीब हैं जो इन परेशानियों से दो-चार नहीं हैं।

मगर पानी बचाने को लेकर हमारी विवेकहीनता भविष्य के लिए खतरे का संकेत है। बेतहाशा भू-जल दोहन का ही परिणाम है कि भू-जल स्तर तेजी से नीचे खिसकता जा रहा है। यदि हम अब भी नहीं चेते तो हमारी भावी पीड़ियों को ये दंश झेलना पड़ सकता है।

पेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली पार्षद :- देश में कई ऐसे राज्य हैं जिसके दर्जनों जिले पेयजल की किल्लत से जूझ रहे हैं।

ऐसी ही कुछ समस्या NIT 5 नंबर के लोगो को हो रही है ।एक तरफ भिसड गर्मी और दूसरी और पानी की किल्लत ।कई बार निगम में शिकायत करने के बाद भी NIT 5 के लोगो की पानी की किल्लत दूर नही हो रही ।मजबूरन लोगो को प्रदर्शन पर उतारना पड़ा।

पेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली पार्षद :- देश में कई ऐसे राज्य हैं जिसके दर्जनों जिले पेयजल की किल्लत से जूझ रहे हैं।

सोमवार को कोई पार्षदों ने निगम को खरी खोटी सुनाई लेकिन उसके बाद भी पानी की समस्या नही हुई ।
अब बोर्ड की पार्षद ललिता यादव रेनी वेल योजना का कार्यभार देख रहे अधीक्षण अभिनेता विजय ढाका से मिलकर पेयजल समस्या को लेकर बातचीत की।

पेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली पार्षद :- देश में कई ऐसे राज्य हैं जिसके दर्जनों जिले पेयजल की किल्लत से जूझ रहे हैं।
पेयजल किल्लत को लेकर लोगो मैं बढ़ा रोष, अधीक्षण अभियंता से मिली पार्षद

ललिता यादव ने कहा जवाहर कॉलोनी और पर्वतीय कॉलोनी मैं कई दिनों से पानी की आपूर्ति ठीक प्रकार से नहीं हो रही है। रेन वेल योजना के तहत पानी ना आने से आमजन में निगम अधिकारियों के प्रति रोष बढ़ता जा रहा है। अधीक्षण अभियंता विजय ढाका ने इस बारे में एसडीओ नवल सिंह से बात की विजय ढाका ने बताया कि जहां पानी की किल्लत है उन क्षेत्रों में पेयजल की किल्लत को जल्द दूर किया जाएगा। अगर जरूरत पड़ी तो नहीं पाइप लाइन भी डाली जाएगी।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...