HomeGovernmentनो ड्यूज सर्टिफिकेट सिस्टम लागू होने पर निगम में दिखी टेक्स जामा...

नो ड्यूज सर्टिफिकेट सिस्टम लागू होने पर निगम में दिखी टेक्स जामा कराने वालो की भीड़

Published on

कोरोना के दौरान बंद हुई रजिस्ट्रीयो को शुरू करने को लेकर फैसला लिया गया है लेकिन साथ ही नए नियम भी लागू किया गए नियमो के अनुसार अब नगर निगम शहर में नो ड्यूज सर्टिफिकेट के बिना अब कोई रजिस्ट्री नहीं हो पाएगी।

शहरी स्थानीय निकाय निदेशालय की ओर से नो ड्यूज सर्टिफिकेट मैनेजमेंट सिस्टम लागू कर दिया गया है। सिस्टम के तहत हर प्रॉपर्टी की आइडी ऑनलाइन होगी।

नो ड्यूज सर्टिफिकेट सिस्टम लागू होने पर निगम में दिखी टेक्स जामा कराने वालो की भीड़

आइडी नंबर से ही प्रॉपर्टी मालिक नगर निगम में ऑनलाइन बकाया राशि जमा करवाने के अलावा निगम मुख्यालय आकर भी प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवा कर नो ड्यूज सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकता है।

इसके साथ ही गुरुवार को रजिस्ट्री के लिए नो ड्यूज सर्टिफिकेट अनिवार्य किए जाने के बाद अब लोग नगर निगम मुख्यालय में प्रॉपर्टी टैक्स और विकास शुल्क जमा कराने के लिए आ रहे हैं

नो ड्यूज सर्टिफिकेट सिस्टम लागू होने पर निगम में दिखी टेक्स जामा कराने वालो की भीड़

प्रॉपर्टी टैक्स शाखा की ओर से करीब 2.60 लाख आइडी का रिकार्ड ऑनलाइन कर दिया गया है। नगर निगम के एनआइटी, ओल्ड फरीदाबाद तथा बल्लभगढ़ में सात जोन हैं। आइटी सेल की ओर से इन सभी जोन की अलग से आइडी बनाई जा रही है।

बता दें कि नगर निगम को नागरिकों से करीब 150 करोड़ रुपये प्रॉपर्टी टैक्स के लेने हैं। अब तक की स्थिति की बात करें, तो बिना नो ड्यूज सर्टिफिकेट के भी रजिस्ट्री होती रही है।

अब प्रदेश सरकार की पहल के बाद एक तरफ नागरिकों को ऑनलाइन प्रॉपर्टी टैक्स जमा कराने की सुविधा मिलेगी, तो नो ड्यूज सर्टिफिकेट मैनेजमेंट सिस्टम से निगम का राजस्व भी बढ़ेगा। इसके अलावा रजिस्टर में दर्ज प्रॉपर्टी टैक्स के रिकार्ड में कर्मचारी अपनी मर्जी से राशि को घटा-बढ़ा नहीं सकते हैं।

शहरी स्थानीय निकाय निदेशालय ने पिछले दिनों सभी नगर निगम आयुक्त, उपायुक्त, नगर परिषदों और नगरपालिकाओं के कार्यकारी अधिकारियों तथा सचिवों को पत्र के माध्यम से नागरिकों को ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए थे। साथ ही यह भी कहा गया था कि कि कोई भी सेवा मैनुअली रूप से न दी जाए। ब्याज माफी योजना भी चल रही

प्रदेश सरकार की ओर से प्रॉपर्टी टैक्स की बकाया वसूली के लिए ब्याज माफी योजना भी चल रही है। नागरिक 31 अक्टूबर तक योजना का लाभ ले सकते हैं। चालू वित्त वर्ष का प्रॉपटी टैक्स जमा कराने पर 10 फीसद की छूट दी जा रही है। इसके अलावा गुड टैक्स पेयर को 10 फीसद अतिरिक्त छूट देने के आदेश हैं।

गुड टैक्स पेयर उन्हें माना जाता है, जो लगातार तीन वर्ष से समय पर टैक्स जमा करा रहे हैं। निदेशालय की ओर से नो ड्यूज सर्टिफिकेट मैनेजमेंट सिस्टम लागू कर दिया गया है। एक-दो दिन में हम भी सारे सिस्टम को पूरी तरह से चालू कर देंगे। इससे आम नागरिकों को भी राहत मिलेगी

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...