Pehchan Faridabad
Know Your City

लॉक डाउन में कैसे मनाए रमज़ान ,कोरोना के कहर में भी बरसेगी रहमत ।

कोरोना संक्रमण जैसी महामारी के बीच रमजान का पवित्र महीना शुरू हो गया है माहे मुबारक रमजान का चांद दिखते ही चांद दिखते ही आज से आज रहमतों और बरकतों के महीने यानी रमजान की आमद हो गई । आज से रोजेदार रोजे रखकर अपने सब्र का इंतिहान देंगे । कल रात के आखिरी पहर यानी सुबह के 4:00 बजकर 3 मिनट तक शहरी का आखरी वक्त और वही शाम 6:43 यानी मकरीब के वक्त रोजा इफ्तार होगा। 

प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके दी बधाई

रमजान के मुबारक मौके पर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी मुस्लिम भाइयों को ट्वीट करके बधाई दी कहा मैं सभी की सुरक्षा और समृद्धता की दुआ करता हूं।मैं आशा करता हूं कि यह पवित्र महीना सभी में सद्भाव और दया के भाव की बढ़ोतरी लाएगा। हम सभी मिलकर कोरोना महामारी के खिलाफ चल रही जंग को जीतकर एक स्वस्थ जहान का निर्माण करें।

रमजान के इस पूरे महीने में लोग खुद की रहमत पाने के लिए पूरे 29 या 30 दिन रोजा रखते हैं। वे अपने भाई, रिश्तेदारों के साथ मिलकर मस्जिद में एक साथ नमाज अदा करते हैं। साथ ही एकजुट होकर खुदा से दुआ करते हैं।

मगर इस बार पूरा विश्व कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहा है। ऐसे में इससे बचने के लिए देश भर में लॉकडाउन ऐलान किया गया है। इसलिए इन्हें इसे मनाने के लिए कुछ खास बातों का ध्यान रखना होगा। ताकि रोज़ो का हुक्म भी अदा हो जाए और कोरोना के कहर से बचा भी जाए। लॉकडाउन का पालन करते हुए फिजिकल डिस्टेंस मेंटेन करें। सामूहिक इफ्तार और नमाज से परहेज करें।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More