Pehchan Faridabad
Know Your City

प्रदेश के बुनियादी ढांचे को और मजबूत बनाने के लिए डिप्टी सीएम की समीक्षा बैठक

  • एक दर्जन से ज्यादा प्रोजेक्टों में गुणवत्ता के साथ तेजी लाने के दिए निर्देश
  • पीडब्ल्यूडी के कामों की जांच के लिए हिसार टेस्टिंग लैब को बनाएंगे अत्याधुनिक – दुष्यंत चौटाला

चंडीगढ़: हरियाणा सरकार कोविड-19 के दौरान भी राज्य के बुनियादी ढांचे को सशक्त करने की दिशा में मजबूती से अपने कदमों को आगे बढ़ा रही है। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पिछले एक सप्ताह में बड़े प्रोजेक्टों को लेकर दो बैठकें कर चुके हैं।

इन बैठकों में उन्होंने 3,000 करोड़ रूपए से ज्यादा के प्रोजेक्टों की वर्तमान स्थिति को लेकर समीक्षा की और जल्द से जल्द इनको पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

बुधवार को चंडीगढ़ स्थित हरियाणा निवास में लोक निर्माण (भवन एवं संड़कें) विभाग के आला अधिकारियों तथा प्रोजेक्टों के निर्माण में लगी एजेंसियों के प्रतिनिधियों से करीब दो घंटे तक रूबरू हुए।

बैठक में लगभग 1162 करोड़ रूपए के एक दर्जन से अधिक प्रोजेक्टों की समीक्षा की गई। इससे पूर्व, 4 सितंबर 2020 को भी डिप्टी सीएम ने करीब 2076 करोड़ रूपए से अधिक लागत से तैयार होने वाले एक दर्जन प्रोजेक्टों के निर्माण का जायजा लिया था, इनमें से प्रत्येक प्रोजेक्ट 100 करोड़ रूपए की कीमत से ज्यादा का था।

डिप्टी सीएम ने बड़े प्रोजेक्टों के निर्माण में लगी एजेंसियों को जहां गुणवत्ता के साथ-साथ कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए, वहीं विभागीय अधिकारियों को निरंतर इनकी निगरानी करने को भी कहा।

उन्होंने कहा कि विकास के कार्यों में राज्य सरकार की ओर से फंड की कमी नहीं रहने दी जाएगी और बशर्ते संबंधित एजेंसी अपना कार्य निर्धारित अवधि में पूरा करे। साथ ही उपमुख्यमंत्री ने बताया कि बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि हिसार में जो पीडब्ल्यूडी विभाग की टेस्टिंग लेबोरेटरी है

उसे दोबारा नई तकनीक के साथ अपग्रेड किया जाएगा ताकि इस अत्याधुनिक लैब के जरिए विभाग की टेस्टिंग से जुड़ी किसी भी समस्या को जल्द से जल्द निपटाया जा सके।

वहीं उपमुख्यमंत्री ने अंबाला कैंट में स्थित सिविल अस्पताल को 100 बैड से 200 बैड, अंबाला शहर में 200 से 300 बैड के अस्पताल के तौर पर अपग्रेड करने, यमुनानगर में 200 बैड का मुकुंद लाल सिविल अस्पताल का निर्माण करने,

अंबाला शहर के मिनी सचिवालय कैंपस में प्रशासनिक भवन के तीसरे चरण का निर्माण करने, अंबाला कैंट के वार हीरोज मैमोरियल स्टेडियम को अपग्रेड करने, रेवाड़ी में नया जेल भवन बनाने, गुरूग्राम में आबकारी एवं कराधान विभाग का जिला मुख्यालय भवन का निर्माण करने, गांव जठलाना में समालखा के पास तथा गांव खोजकीपुर के पास यमुना नदी पर पुल बनाने के निर्माण कार्य की प्रगति रिपोर्ट ली।

इनके अलावा उपमुख्यमंत्री ने रोहतक में शीला बाईपास चौक पर फ्लाइओवर के निर्माण, करनाल-राम्बा-इंद्री-लाडवा रोड को 4-लेन करने, रेवाड़ी जिला के पाली गांव में 4-लेन रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण, गीता द्वार से लेकर कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी के गेट नंबर तीन तक 6-लेन रोड बनाने, सोनीपत-राठधना-नरेला रोड को अपग्रेड करने तथा हिसार में जिंदल चौक से लेकर सूर्य नगर रोड तक रेवाडी-भठिंडा रेलवे लाइन पर ओवरब्रिज बनाने के कार्य की बारीकी से समीक्षा की।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More