HomePublic Issueहरियाणा में पिपली रैली में शामिल ना होने के लिए फरीदाबाद पुलिस...

हरियाणा में पिपली रैली में शामिल ना होने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने 13 आढ़तियों को कमरे में किया बंद

Published on

कुरुक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले पीपली क्षेत्र में आढ़तियों द्वारा एक रैली का आयोजन किया जाना था जिसमें बल्लभगढ़ के कुछ आढ़ती भी शामिल होने वाले थे। जैसे ही इस बात की सूचना पुलिस विभाग को मिली तो तुरंत पुलिस विभाग ने भी अपनी दबंग गिरी दिखाते हुए बल्लभगढ़ के 13 आढ़तियों को उनके घर से उठवा लिया।

दरअसल आढ़तियों द्वारा की जाने वाली रैली केंद्र सरकार द्वारा दिए गए तीन अध्यादेश के खिलाफ थी। अध्यादेश के खिलाफ ही सैकड़ों आरती पिपली में रैली में शामिल होने वाले थे। केंद्र सरकार द्वारा दिए गए तीन अध्यादेश में उक्त बातें शामिल थी जिसके विरोध में सैकड़ों आढ़ती रैली में अपनी भागीदारी दे रहे थे।

हरियाणा में पिपली रैली में शामिल ना होने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने 13 आढ़तियों को कमरे में किया बंद

पहले कानून के मुताबिक हर व्यापारी केवल मंडी से ही किसान की फसल खरीद सकता था। अब व्यापारी को इस कानून के तहत मंडी के बाहर से फसल खरीदने की छूट मिल जाएगी।

अनाज, दालों, खाद्य तेल, प्याज, आलू आदि को जरूरी वस्तु अधिनियम से बाहर करके इसकी स्टॉक सीमा समाप्त कर दी गई है।

सरकार कांट्रेक्ट फॉर्मिंग को बढावा देने की बात कह रही है

इसलिए रैली आयोजित होने से पहले ही पुलिस प्रशासन में आढ़तियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं सभी आढ़तियों को पुलिस विभाग द्वारा एक कमरे में बंद कर दिया गया है। ज्ञात हो कि देशभर में कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी फैली हुई है।

ऐसे में केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकार और जिला सरकार ने सोशल डिस्टेंस को इस महामारी से बचने का सबसे सटीक उपाय बताया हुआ है। वहीं जब खुद पुलिस प्रशासन ही इतनी बड़ी लापरवाही पर उतारू हो जाए तो आम जनता में वायरस का संक्रमण फैलने से कैसे खत्म होगा।

हरियाणा में पिपली रैली में शामिल ना होने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने 13 आढ़तियों को कमरे में किया बंद

इस मामले के बाद आढ़तियों के प्रधान पंडित सुनील भारद्वाज ने बताया कि पुलिस प्रशासन द्वारा लोगों के घर में दबिश जबरन उन्हें उठाकर एक कमरे में बंद कर दिया गया है। ऐसे में अब क्या सोशल डिस्टेंस की धज्जियां नहीं उड़ाई जा रही। प्रधान ने कहा कि कोरोना को फैलने से रोकने में मदद करने की जगह पुलिस प्रशासन ही कोरोनावायरस को फैलाने में जुटी हुई है।

उक्त आढ़तियों को पुलिस विभाग में जबरन उठाया

सुनील भारद्वाज
ईशू गोयल
अमित मंगला
गिरधारी गुप्ता
अनूप गोयल
सुनील मित्तल
पुरुषोत्तम डागर
हेमराज बंसल
राकेश बंसल
राकेश कुमार गुप्ता
महेन्द्र मंगला
ललित कुमार मित्तल

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...