Pehchan Faridabad
Know Your City

जानिए फरीदाबाद में कोरोना वायरस की चपेट ने अब तक कितने लोग आए और कितने ठीक हुए ।

उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डॉ. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 97517 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 54454 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है।

शेष 43063 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 97700 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 157886 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 142496 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 389 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 15001 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 381 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 1228 पॉजिटिव मरीजों को घर पर होम आइसोलेट किया गया है।

इसी प्रकार ठीक होने के बाद 13209 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 183 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसमें 39 मरीज गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किए गए हैं इसी के साथ 06 मरीजो को आईसीयू में रखा गया है। आज जिले में 282 नए केस आए हैं जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही। आज जिला में कोरोना के केस का डबलिंग रेट 78.8 दिन व रिकवरी रेट 88.1% है।



उन्होंने लोगों से आवाहन किया है कि नागरिक कहीं पर भी भीड़ देखे तो जिम्मेदार नागरिक होने के नाते एक दूसरे को सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक करें। उन्होंने लोगो से अपील की है कि कोरोना के खिलाफ जंग में स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन का साथ देंगे तो हम जल्द ही इस जंग को जीत पाएंगे।

किसी को भी अपने आस-पास संदिग्ध मरीज की जानकारी मिले तो उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 पर या जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 व 1950 पर जानकारी दे। उन्होंने सभी दुकानदारो व नागरिकों से अपील की है कि सभी घर से मास्क पहनकर निकले और बार-बार अपने हाथों को 20 सेकंड तक साबुन से धोए व सैनिटाईज करें।

उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करे ताकि अपने आस-पास के संदिग्ध मरीजों की सूचना प्राप्त होती रहे। उन्होंने दुकानदारों से आवाहन किया है कि वे अपनी दुकानो में ग्राहकों की भीड़ ना लगाए। सभी के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाना सुनिश्चित करें।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More