HomePress Releaseखेलो में विकास के लिए केन्द्र सरकार ने लघु खेल केन्द्र योजना...

खेलो में विकास के लिए केन्द्र सरकार ने लघु खेल केन्द्र योजना का शुभारंभ किया ।

Published on

खेलो इंडिया अभियान के अंतर्गत जमीनी स्तर पर खेलों के विकास एवं प्रोत्साहन के लिए केन्द्र सरकार ने लघु खेल केन्द्र योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के तहत नए खिलाडिय़ों को प्रशिक्षित करने के लिए इन लघु खेल केंद्रों का संचालन पूर्व चैंपियन खिलाडिय़ों के माध्यम से किया जाएगा। इन लघु खेल केंद्रों के लिए 30 सितंबर 2020 तक जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी कार्यालय में आवेदन किया जा सकता है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस योजना में 14 ओलंपिक खेलों को शामिल किया गया है जिनमें आर्चरी, एथेलेटिक्स, बॉक्सिंग, बैडमिंटन, साईकिलिंग, फैंसिंग, हॉकी, जूडो, रोइंग, शूटिंग, तैराकी, टेबल-टेनिस, भारतोलन व कुश्ती आदि शामिल हैं। इसके अलावा फुटबाल व अन्य खेलों को भी इसमें शामिल किया जा सकता है। इस योजना के तहत ट्रेनिंग लेकर नए खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलों में विजयी होकर अपने प्रदेश व देश का नाम रोशन करेंगे।

खेलो में विकास के लिए केन्द्र सरकार ने लघु खेल केन्द्र योजना का शुभारंभ किया ।

उन्होने बताया कि इस योजना के तहत केन्द्र सरकार द्वारा इन केन्द्रों को खेल के मैदानों के रखरखाव, खेल उपकरण व खेल किट आदि के लिए एकमुश्त पांच लाख रूपये की राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस योजना के लिए जिले की कोई भी संस्था जिसने पिछले पांच वर्षों में खेलों को बढावा देने के लिए कार्य किया हो या कोई राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय व पूर्व चैंपियन जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी कार्यालय में अपना प्रस्ताव जमा करवा सकता है।

इसके लिए कोई भी खेल संस्था व वर्तमान में स्थापित ट्रेनिंग सेंटर अपनी संस्था या सेंटर को खेलो इंडिया लघु खेल केन्द्र में तबदील करवाना चाहता है तो वो भी अपना प्रस्ताव जमा करवा सकते हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...