HomeCrimeसुशांत सिंह की मौत ने बेपर्दा किये कई राज़, महाराष्ट्र से बड़ा...

सुशांत सिंह की मौत ने बेपर्दा किये कई राज़, महाराष्ट्र से बड़ा है हरियाणा और पंजाब का ड्रग नेटवर्क

Published on

ड्रग्स के लेन-देन में केवल मुंबई ही नही हरियाणा और पंजाब भी हैं लिप्त। जानें कैसे

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले ने बहुत से राज़ों पर से पर्दा उठाया है। जो मुद्दे पहले पर्दे के पीछे ही रहते थे आज वो देश की 130 करोड़ जनता के सामने ऐसे आ गए हैं जैसे खुली किताब। ड्रग कनेक्शन सामने आने से पूरी बॉलवुड इंडस्ट्री में खलबली मच गयी है। जहाँ एक ओर रिया चक्रवर्ती खुलासे करती जा रही है तो वहीं कंगना रनौत हमलावर हुई नज़र आ रही हैं। ड्रग्स के लेन-देन और सेवन में मुंबई के साथ हरियाणा और पंजाब भी लिस्ट में शामिल हैं।

सुशांत सिंह की मौत ने बेपर्दा किये कई राज़, महाराष्ट्र से बड़ा है हरियाणा और पंजाब का ड्रग नेटवर्क

हरियाणा और पंजाब भी ऐसे राज्य हैं जहां ड्रग्स का कारोबार कोई नयी बात नहीं है और इस ड्रग्स की वजह से पिछले एक दशक से लाखों परिवार उजड़ रहे हैं। पंजाब और हरियाणा के नौजवान भी नशे की लत में हैं, यह नशा इस तरह का भयानक रूप ले लेता है कि नौजवान डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं और अक्सर ऐसे मामलों में अंत में आत्महत्या कर अपनी ज़िन्दगी खत्म कर लेते हैं।

सुशांत सिंह की मौत ने बेपर्दा किये कई राज़, महाराष्ट्र से बड़ा है हरियाणा और पंजाब का ड्रग नेटवर्क

हरियाणा में अब भुक्की, अफीम, स्मैक, चिट्टा, चरस, आयोडेक्स से लेकर नशीले इंजेक्शन, दवाइयां और तमाम तरह के नशे में आज का नौजवान धसता ही जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक़ हरियाणा में साढ़े 4 लाख से अधिक लोग नशे के आदि हैं। कोढ़ में खाज तो यह है कि नशे पर अंकुश लगाने के लिए मात्र 19 ही सरकारी नशा मुक्ति केंद्र हैं और इनमें भी पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं।

सुशांत सिंह की मौत ने बेपर्दा किये कई राज़, महाराष्ट्र से बड़ा है हरियाणा और पंजाब का ड्रग नेटवर्क

नशे की ओवरडोज़ भी हादसों और घटनाओं का मुख्य कारण है। पिछले 10 वर्षों में नशे की ओवरडोज़ के कारण 2 हज़ार से भी ज़्यादा लोगों की जान जा चुकी है। आंकड़े हैरान कर देने वाले हैं साल 2019 में ही हरियाणा पुलिस की ओर से मादक पदार्थ अधिनियम के तहत 2677 केस दर्ज कर कुल 16 हज़ार 23 किलोग्राम नशीले पदार्थ बरामद किये गए। इसके अलावा एनसीआर के साथ लगते गुरुग्राम, फरीदाबाद सहित कई अन्य जिलों में भी नशे का यह कारोबार लगातार बढ़ता जा रहा है जहां युवा वर्ग नशे की चपेट में आते जा रहे हैं।

Writtne By- MITASHA BANGA

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...