Pehchan Faridabad
Know Your City

जन्मदिवस : 6 साल में मोदी सरकार के 5 बड़े फैसले, जिसने बदल दी देश की तस्वीर

मोदी मतलब भारत के 130 करोड़ जनता के प्रतिनिधि। भारतवर्ष के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज 70वां जन्मदिन है। इस मौके पर उनके प्रशंसक लगातार उनकी लंबी उम्र की कामना कर रहे हैं और उन्हें देश विदेश से बधाईयां मिल रही हैं। देश के तमाम नेताओं समेत कई राष्ट्राध्यक्षों ने पीएम मोदी को जन्मदिन की बधाई दी है।

पहचान फरीदाबाद आज आपको प्रधानमंत्री के जन्मदिन के विशेष अवसर पर बताएगा कि उन्होंने प्रधानमंत्री रहते हुए पिछले 6 साल में ऐसे कौन से अहम फैसले लिए, जिसकी वजह से आज पीएम मोदी की लोकप्रियता पूरे विश्व में है।

भारत के सबसे ताकतवर और लोकप्रिय इंसान मोदी हैं। मई 2014 में देश के प्रधानमंत्री बने थे और तब से लगातार उन्होंने देशहित में कई अहम फैसले लिए हैं, जिसकी वजह से आज पीएम मोदी विश्व के सबसे लोकप्रिय नेताओं में से एक हैं।

मोदी सरकार ने यूँ तो अनेकों ऐसे काम किये हैं जिनको याद किया जाएगा लेकिन कश्मीर से धारा 370 हटाना पीएम मोदी के एजेंडे में सबसे ऊपर था। 2014 में जब भाजपा की सरकार देश में बनी, तब भी कश्मीर से धारा 370 हटाना सरकार की पहली प्राथमिकता थी, लेकिन तब वो पूरी नहीं हो सकी थी। मई 2019 में जब मोदी दूसरी बार पीएम बने तो कुछ ही महीने बाद कश्मीर से आर्टिकल 370 को खत्म कर दिया।

देश की राजधानी में समुदाय विशेष के लोगों ने दिल्ली को जलाया था कारण मात्र था कि मोदी ने पहले सात महीने में ही दूसरा बड़ा फैसला लेकर पूरे विश्व का ध्यान भारत की ओर आकृष्ट कर दिया। लिहाजा नागरिकता संशोधन कानून बनाकर पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों को भारत में नागरिकता का अधिकार दे दिया गया।

राम को काल्पनिक कहने वाले लोगों के मुँह पर तमाचा भी मारा बीते तीन दशकों से चल रहे राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद का भी अंत मोदी सरकार के कार्यकाल में हो गया। रामलला को सुप्रीम कोर्ट से न्याय मिला और 9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ कर दिया।

समुदाय विशेष के लिए जितने काम मोदी ने किये हैं उतने किसी ने नहीं किये। मुस्लिम महिलाओं के पक्ष में अब तक का सबसे बड़ा फैसला मोदी के कार्यकाल में ही लिया गया। ये फैसला था मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से आजादी दिलाने का।

गरीबों का हमेशा ध्यान रखने वाले मोदी ऐसा काम करते हैं कि दुनिया उनकी दीवानी हप जाती है,आरक्षण व्यवस्था से छेड़छाड़ करना सरकार के लिए आसान काम नहीं होता है। जब आरक्षण व्यवस्था को छूने की कोशिश की गई है, तब सरकार खतरे में पड़ी है। इसके बावजूद पीएम मोदी ने गरीब सवर्णों को आरक्षण देने की ठान ली और केंद्र सरकार ने इसे अमलीजामा पहनाया।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More