HomeInternational130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी...

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

Published on

क्या आपने कभी सोचा है कि एक पति के कितनी बीवियां हो सकती है। अनुमान के तौर पर एक, दो, तीन, चार, पांच आप यही रुक जाएंगे और शायद सामान्य सोच के हिसाब से आप इससे ज्यादा भी न बढ़े। एक के बाद 2 तक ही आप गिन कर रुक जाएंगे

लेकिन जो कहानी हम आपको बताने जा रहे है उस कहानी के आधार पर आप सुनकर सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि क्या ऐसा हो सकता है जी हां ऐसा हुआ है एक अकेले पति के 130 बीवियां थी।

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

अब आप सोच रहे होंगे कि कुछ लोग एक बीवी नहीं संभाल पाते, 2 बीवी रखते है तो बहुत बुरा हाल होता है 130 बीवियां को कोई कैसे रख सकता है। लेकिन ऐसा मुमकिन हुआ है एक अकेला मौलवी था जिसकी मौत के बाद भी बच्चे पैदा हो रहे थे इस तरीके के भी स्तिथियां निकल कर सामने आई। इन खबरों ने आम इंसान को सोचने पर मजबूर कर दिया है।

हम अक्सर राजा महाराजाओं की पुरानी कहानियों में सुना करते थे कि एक राजा की 100 रानियां होती थी वो कैसे उन्हें अपनी जीवन में रखता होगा, कैसे 100 रानियां राजा के साथ रहा करती होंगी, कितनी रानियों के कैसे बच्चे हुआ करते होंगे।

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

लेकिन जो इतिहास था इतिहास ने अपने आप को दोहराया। कहा जाता है ना कि इतिहास अपने आप को दोहराता है लेकिन प्रकति अपने हिसाब से चलती है।

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

वहीं ये बात सोचने पर मजबूर करती है आपको की जब मौलवी नहीं रहा उसके बाद भी बीवियों के बच्चे हो रहे है, ये कैसे मुमकिन है। जी हां इतने बीवियों के बच्चे होने से एक परिवार में जहां पति तो एक ही है लेकिन उसकी बीवियां 130 और बच्चे 203 है।

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

दरअसल ये अनोखा परिवार या फिर कहे गांव बसाने वाला शख्स नाइजीरिया में रहने वाले एक मौलवी था। मोहम्मद बेल्लो अबूबकर नाम के इस मौलवी की साल 2017 में मौत हो गई थी।

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

हालांकि इस समय वह एक बार फिर चर्चा में आया है। दरअसल मौत के समय उनकी कई बीवियां गर्भवती थी। यह मौलवी अपने पूरे परिवार के साथ तीन मंजिला एक मकान में रहता था। खास बात यह थी कि इतनी सारी पत्नियां होने के बावजूद इनके बीच कभी कोई लड़ाई नहीं होती थी।

130 बीवियों का अकेला पति था ये मौलाना, मरने के बाद भी पैदा हो रहे थे बच्चे

ये सभी शांति से रहते थे। बता दे अपनी जिंदगी में अबूबकर को काफी विरोध का सामना करना पड़ा था। कई लोगों ने उसे चार पत्नी के अलावा सभी को तलाक देने को कहा था लेकिन मौलवी ने शादी को शुद्ध कहकर ऐसा करने से इंकार कर दिया था।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...