Online se Dil tak

MCF द्वारा खुली हुई दुकानों को कराया गया बंद , प्रशासन द्वारा की गई कार्यवाही तो नाराज हुये दुकानदार।

प्रशासन की ज़रा सी गलती ने किया आग में घी डालने का काम

पिछले दो दिनों में सरकार द्वारा पारित आदेश ने असमंजस की स्थिति उत्पन्न कर दी है। दुकान खोलने के माध्यम से लोगों ने अपने अस्त व्यस्त जीवन को सुखमय बनाने का प्रयास किया ही था कि सरकारी अधिकारियों ने इसे पलीता लगा दिया।

गौरतलब, फरीदाबाद के बाजारों की दुकानें भी खोलने की अनुमति नहीं होगी। जिला उपायुक्त यशपाल यादव के आदेश पर फरीदाबाद जिले में स्थित बाजारों में खुली सभी दुकानों को बंद करवाया जा रहा है। उपायुक्त ने लॉकडाऊन को सफल बनाने के लिए नगर निगम फरीदाबाद को नोडल विभाग नियुक्त किया है। निगम अधिकारियों ने रविवार को सुबह ही मोर्चा संभाल लिया। निगम की टीमें अपने अपने क्षेत्रों में स्थित बाजारों में सुबह ही पहुंच गईं और दुकानें बंद करने की अपील की।

इस मौके पर एनआईटी नंबर 5 में निगम की टीम के साथ दुकानदारों की जोरदार बहस हुई। मार्केट के दुकानदार इकठ्ठा हो गए और निगम की टीम को घेर लिया। निगम की इंफोर्समेंट टीम के एसडीओ पदमभूषण ने बताया कि उनके पास उपायुक्त के स्पष्ट निर्देश हैं।

इसके अंतर्गत बाजारों में मेडीकल स्टोर, किराना स्टोर व फलों की दुकानों के अतिरिक्त किसी अन्य दुकान को खोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंनेे कहा कि इस बात को लेकर दुकानदारों ने नाराजगी भी जाहिर की। एसडीओ ने बताया कि केवल उन दुकानों को ही खोलने की अनुमति है, जोकि मौहल्लों और रिहायशी ब्लाक में हैं।

उन्होंने कहा कि 3 मई तक लॉकडाऊन का सख्ती से पालन किया जाएगा। एनआईटी के 1 से लेकर 5 नंबर के सभी बाजारों में दुकानों को बंद करवा दिया गया है। इसके अलावा एनआईटी के जवाहर कालोनी इलाके में भी पुलिस ने मोर्चा संभाला और सभी दुकानों को बंद करवा दिया गया।

बता दें कि शनिवार को केंद्र सरकार के दुकानें खोलने के आदेश से लाखों लोगों में परेशानी देखी गई। कभी दुकानें खोलने व कभी बंद करने को लेकर बाजारों में अफरा तफरी का माहौल था। फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर द्वारा जारी दुकानें खोलने के ऑडियों ने भी लोगों में भ्रम पैदा कर दिया। पुलिस कमिश्नर ने अपने ऑडियों रिकार्डिंग के माध्यम से सभी डीसीपी, एसीपी, थाना प्रभारी को आदेश दिए थे कि बाजारों में दुकानों को खोलने दिया जाए।

MCF द्वारा खुली हुई दुकानों को कराया गया बंद , प्रशासन द्वारा की गई कार्यवाही तो नाराज हुये दुकानदार।
MCF द्वारा खुली हुई दुकानों को कराया गया बंद , प्रशासन द्वारा की गई कार्यवाही तो नाराज हुये दुकानदार।

दुकान खोलने की कोई टाईम लिमिट नहीं होगी। पुलिस कमिश्नर के इस आदेश से बाजार में लोगों ने अपनी दुकानें खोल लीं। बाद में डीसी ने एक वीडियो जारी कर सभी दुकानों को बंद करने के आदेश दिए। इस तरह से लोग असमंजस में रहे कि आखिर किस अधिकारी की बात मानें। बाद में डीसी की ही चली और पलिस कमिश्नर ने भी देर शाम को एक प्रेस नोट जारी कर प्रशासन के आदेशों को ही मान्य करार दिया।

Read More

Recent