Pehchan Faridabad
Know Your City

पुलिस कमिश्नर ने लिया खास फैसला,अब फरीदाबाद बनेगा अपराध मुक्त

पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद श्री ओ॰पी॰ सिंह ने आज सुबह पुलिस कमिष्नरेट, फरीदाबाद के सभी पुलिस उपायुक्तों तथा सहायक पुलिस उपायुक्तों की संगोष्ठी के दौरान कहा कि फरीदाबाद को हर अपराध से मुक्त करना ही हमारा सामूहिक लक्ष्य। सर्वप्रथम समार्ट सीटी योजना के तहत फरीदाबाद में विभिन्न स्थानों पर लगाए गए सी॰सी॰टी॰वी॰ कैमरों पर चर्चा की गई कि इन कैमरों की मदद से यातायात नियमों की उल्लंघना करने वालों, अपराधिक गतिविधियों और अपराध करके भागने वालों की पहचान करने में बड़ी मदद मिल रही है।

फरीदाबाद के गिरते भूमिगत जल स्तर की बात करते हुए निर्देष दिए गए कि जो लोग अवैध रूप से पानी का दोहन कर रहे हैं, उन पर कार्यवाही करने का एक साप्ताहिक लक्ष्य रखकर कार्य किया जाए। हालाँकि पिछले कुछ दिनों ऐसे व्यक्तियों पर फरीदाबाद में अलग-अलग 35 अभियोग अंकित किए गए हैंै।

अपराध व अपराधिक गतिविधियों पर अंकुष लगाए जाने के उद्देष्य से अपने-अपने इलाके के अपराधियों की पहचान कर उनके परिवार, सगे-संबधियों तथा मिलने-जुलने वालों के निवास स्थानों के साथ-साथ उनके आवागमन की भी जानकारी जुटाएँ। इसके अलावा अधिकारियों को दिषा निर्देष दिए गए कि चैबीस घंटों के दौरान जो भी पुलिस अधिकारी चैंकिग पर होते हैं, वे पी॰सी॰आर॰, राइडर और नाकों की समुचित चैकिंग करें। इस दौरान आसपास की गतिविधियों पर ध्यान रखे तथा व्हाट्सेप की बजाए वायरलैस सिस्टम से ज्यादा संपर्क करें, क्योंकि यह संदेष ड्यूटी पर तैनात सभी पुलिस कर्मियों तक एक साथ चला जाता है और सभी अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद रहते हैं। इस प्रकार संपर्क का यह माध्यम कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अधिक प्रभावषाली होता है। इलाके के अपराध संभावितय जैसे – चैन स्नैचिंग और छीना झपटी होने वाले तथा शराब के ठेके इत्यादि स्थानों का भी दौरा करें।

चैकिंग पर निकलने से पहले सुनिष्चित करें कि आप क्षेत्र में हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार हों, जिसके लिए वैपन का साथ होना भी अति आवष्यक है। स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करते हुए पुलिस आयुक्त, महोदय द््वारा बताया गया कि पुलिस की ड्यूटी को एक चुनौती समझते हुए उसे पूरा करने के लिए अपने आपको फाइटिंग फिट रखें। इस कार्य हेतु रोजाना सौ, दौ सौ या चार सौ मीटर करके कुछ किलोमीटर दौड़ लगाना अति लाभदायक है, क्योंकि दौड़ लगाने से पसीने के माध्यम से विषाक्त तत्व शरीर से बाहर निकल जाते हैं, जो शरीर में अनेक प्रकार की व्याधियों का कारण बनते हैं। खून तथा शरीर की अनावष्यक चर्बी चली जाती है और हृदय एवं खून की गति सामान्य रहती है। शरीर को दौड़ का कार्य देकर हम अपने स्वास्थ्य का परीक्षण स्वयं कर सकते हैं। सभी अधिकारियों से गत दिनों में उनके द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी लेकर अंत में सभी की अच्छा कार्य करने के लिए उनकी प्रषंसा की गई।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More