Homeतीन शादी कर चुके इस शक्स की बीवियों को रहता है हमेशा...

तीन शादी कर चुके इस शक्स की बीवियों को रहता है हमेशा यहीं डर की कहीं पति रूठ ना जायें, वजह जान जायेंगे हैरान

Array

Published on

शादी सबसे पवित्र बंधन माना जाता है। इस्लाम धर्म में सभी चीज़े न जाने क्यों फ़ालतू सी लगती हैं। इस धर्म में आप जितनी चाहे शादी कर सकते हैं। भारत सहित अन्य कई देशों में भी कोई एक आदमी केवल एक ही पत्नी के साथ एक समय पर रह सकता है। दूसरी या तीसरी शादी करने के लिए हर किसी को अपनी पहली बीवी से तलाक लेना अनिवार्य माना जाता है।

पहचान फरीदाबाद आपको हमेशा नई-नई जानकारियों से रूबरू करवाता है, आज हम आपको एक ऐसे इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपनी तीनों बीवियों के साथ रहता है लेकिन उसकी किसी भी बीवी को इस बात से इनकार नहीं है की उसका पति एक समय में तीन औरतों के साथ रहता है।

तीन शादी कर चुके इस शक्स की बीवियों को रहता है हमेशा यहीं डर की कहीं पति रूठ ना जायें, वजह जान जायेंगे हैरान

शादी का बंधन भरोसे से चलता है लेकिन इस्लाम धर्म आतंकवाद से और छल कपट से ऐसा इलसिए कहा क्यों कि लव जिहाद से आप सभी परिचित होंगें। आतंकी हमलों से भी आप परिचित होंगे। बहरहाल, इस इंसान की तीनों बीवियों को हमेशा यहीं डर लगा रहता है की कहीं उनका पति उनसे नाराज न अहो जाएँ क्योंकि नाराज होने पर वो सजा के तौर में अपनी बीवियों के साथ ऐसा सुलूक करता है जिससे उसकी बीवियां ख़ासा चिंतित रहती है।

तीन शादी कर चुके इस शक्स की बीवियों को रहता है हमेशा यहीं डर की कहीं पति रूठ ना जायें, वजह जान जायेंगे हैरान

पहचान फरीदाबाद आपको जिसके बारे में बताने जा रहा है, वह शायद मुस्लिम है? और रूस का रहने वाला है। इस शख्स को हमेशा से ही 50 बच्चे पैदा करने का शौख था और इसलिए उसने तीन तीन शादियाँ करने का फैसला लिया। हमारे देश के ही तरह रूस में भी एक शख्स एक समय में एक ही बीवी के साथ रह सकता है और कानूनी रूप से एक ही शादी को मान्यता दी जाती है लेकिन यदि पति पत्नी पानी आपसी सहमति से ऐसा कर रहे हैं तो फिर इसमें कानून की कोई भूमिका नहीं होती है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...