HomeCrimeपुलिस कमिश्नर ओ॰पी॰ सिंह ने बीट अफसरों को दिए खास दिशा निर्देश

पुलिस कमिश्नर ओ॰पी॰ सिंह ने बीट अफसरों को दिए खास दिशा निर्देश

Published on

फरीदाबाद:पुलिस आयुक्त, ओ॰पी॰ सिंह ने आज सुबह पुलिस कमिश्नरेट, फरीदाबाद के बीट सिस्टम में लगाए गए पुलिसकर्मियों की संगोष्ठी के दौरान कहा कि एक सिपाही सबसे कम वेतन और हाई रिस्क में काम करता है।

पुलिस कमिश्नर ओ॰पी॰ सिंह ने बीट अफसरों को दिए खास दिशा निर्देश

किसी भी विपरीत परिस्थिति में हमारे सगे-संबंधी हो सकता है कि किनारा कर जाएँ, लेकिन हमारा सिपाही कभी साथ नहीं छोड़ता। इसलिए यह सच है कि ताकत सिपाही में ही निहित है। जिले में एक प्रभावशाली बीट सिस्टम लागू किए जाने के नतीजों के बारे में चर्चा करते हुए बीट अफसरों द्वारा बताया गया कि इस सिस्टम से पुलिस का आम आदमी से संपर्क बढ़ा है लोगों को अच्छा लग रहा है। जनता का मानना है कि किसी छोटे-मोटे काम के लिए जब कभी उन्हें पुलिस के पास जाना होता था, तो इलाके के उन लोगों से संपर्क करना पड़ता था और
उनके नखरे झेलने पड़ते थे, जो अपने आप को पुलिस का नजदीकी बताते थे।

लेकिन आज इस प्रकार के कार्य अधिकतर कार्य घर बैठे ही हो जाने के साथ-साथ जनजीवन में नियमित काम आने वाली पुलिस सेवाओं से जुड़ी विविध प्रकार की
जानकारी भी उनके इलाके में ही मिल जाती है। पुलिस आयुक्त महोदय द्वारा बीट अफसरों का मार्गदर्शन करते हुए बताया गया कि वे बीट ऐरिया में अच्छी और
पैटर्न के अनुरूप वर्दी पहनकर किसी वाहन की बजाय ज्यादा से ज्यादा पैदल दौरा करें।

पुलिस कमिश्नर ओ॰पी॰ सिंह ने बीट अफसरों को दिए खास दिशा निर्देश

जिससे अधिकाधिक लोगों से जानकारी होगी, पुलिस की छवि अच्छी होगी, पैदल चलने से स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। इस दौरान जानकारी प्रदान की जाए कि हरियाणा पुलिस की वेबसाइट haryanapoliceonline.gov.in से पुलिस द्वारा पब्लिक को दी जा रही सेवाओं की जानकारी प्राप्त करने के साथ-साथ खोई हुई वस्तुओं (मोबाइल फोन,
पर्स, पेन कार्ड, आधार कार्ड इत्यादि कागजात) या अन्य किसी प्रकार की शिकायत भी
आॅन लाइन दर्ज कराई जा सकती हैं।

पुलिस कमिश्नर ओ॰पी॰ सिंह ने बीट अफसरों को दिए खास दिशा निर्देश

लोगों को सजग किया जाए कि वे अपने ए॰टी॰एम॰ कार्ड का पिन नंबर या मोबाइल पर आने वाले ओ॰टी॰पी॰ आदि किसी के साथ साझा न करें। घरों से बाहर जाते समय सुनिश्चित करें कि घर ठीक से लाॅक हों। अपने वाहनों में जी॰पी॰एस॰ और ऐंटी थैप्ट एलार्म अतिरिक्त लाॅक लगवाएँ।

वाहनों को अधिकृत पार्किंग में खड़ा करें और वाहन में कोई
कीमती सामान न छोड़ें। इसी प्रकार के कुछ अन्य सुझावों वाली एक मार्गदर्शक सभी व्हाट्सेप ग्रुप के माध्यम से सभी के पास भेजने के निर्देश दिए गए।

सभी बीट अफसरों को कहा गया कि वे प्रतिदिन का इस बात का व्यौरा रखें कि पब्लिक से उनके पास कितने फोन आए और कितनी समस्याओं का समाधान हो पाया। बीट में गस्त करते समय अनजान व्यक्तियों का पर्चा अजनवी जारी किया जा सकता है।

पार्को आदि के मुख्य द्वार पर या बाजार में रेहड़ी वालों की भीड़ हो तो उसे हटवाया जाए। भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर अव्यवस्थित रूप से पार्क किए गए वाहनों को व्यवस्थित करवाया जाए। कोई भवन निर्माण सामग्री आम रास्ते में पड़ी हो तो उसे भी हटवाया जाए। कोई भी कार्य लालच या भय केे कारण नहीं करना चाहिए।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...