Pehchan Faridabad
Know Your City

चोरो ने उड़ाई लोगो की नींद ,पुलिस फरमा रही है आराम

अगर व्यक्ति घर मे चैन से सो पता है तो उसको पता है कि मेरी रखवाली करने के लिए बाहर पुलिस तैनात है और देश की सीमा पर वो जवान तैनात है जो मरे देश की रक्षा के लिए दिन रात खड़े है,लेकिन सवाल तब उठता है जब वही सेवा करने वाले पुलिस कर्मी अपने काम मे चोरी दिखाने लग जाये ।और लोगो के घरों में भी चोरी होती रहे ।


आये दिन चोरी के मामले भड़ते जा रहे है ,लेकिन प्रशासन का इस और कोई ध्यान नही जा रहा है । जनता इस महामारी के दौरान चोरी की मार सेह रही है । हाल ही में दो घरों से चोरी का मामला सामने आया है। शहर में दो घरो चोरों ने लाखों रुपए के गहने और कीमती सामान साफ कर दिया। पहली घटना मैं सैनिक कॉलोनी निवासी एक निजी कंपनी से रिटायर्ड जीएम के घर से चोर जेवरात और कीमती मूर्तियां चुरा ले गए।

पीड़ित पति पत्नी बच्चों से मिलने अमेरिका गए थे। जबकि दूसरी घटना में चोर नवीन नगर चौकी क्षेत्र में एक अर्टिटेक्ट के घर से पुश्तैनी गहने व कैश गायब ले उड़े दोनों ही मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सेक्टर 21 निवासी हर्ष मल्होत्रा ने बताया कि उनकी दादी कमला अमेजॉन और जीजा अनिल अनेजा सैनिक कॉलोनी सेक्टर 49 में रहते हैं। दोनों 27 अगस्त को अपने बच्चों के पास अमेरिका गए थे अनिल एक निजी कंपनी में जीएम के पद से रिटायर्ड है और उनके बच्चे अमेरिका में डॉक्टर हैं। 21 सितंबर की डेट में गार्ड ने है उसको बताया कि मकान में चोरी हुई है, जानकारी मिलने के बाद जब हर्ष ने घर में घुसकर देखा तो पूरा सामान बिखरा हुआ था और कीमती जेवरात एवं नकदी गायब थी।

वहीं दूसरी चोरी पल्ला थाना क्षेत्र के नवीन नगर इलाके में चोरों ने एक आर्किटेक्ट के घर को निशाना बनाकर लाखों के पुश्तैनी जेवरात चुरा लिए। परिवार पिता के घर मथुरा गया था । पड़ोसियों ने फोन कर घटना की सूचना दी। सोमवार दोपहर तब जब पीड़ित अपने घर लौट कर आए तो देखा कि ₹20000 का कैश चोरी हो चुका था और अन्य कई कीमती जेवरात भी गायब थे।

बढ़ता जा रहा है आतंक
शहर में एक जून 2020 से 7 सितंबर तक चोरी के कुल 752 मामले दर्ज हो चुके हैं ,वहीं 22 मार्च 2020 से 31 मई तक चोरी के कुल 90 मामले दर्ज किए गए थे जबकि 1 जनवरी से 21 मार्च तक 400 चोरी के मामले दर्ज हुए थे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More