HomeIndiaराहुल और प्रियंका समेत सिर्फ 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति,...

राहुल और प्रियंका समेत सिर्फ 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति, बाकियों पर लाठी चार्ज

Published on

उत्तर प्रदेश के हाथरस से दिल दहला देने वाली दरिंदगी की एक और घटना सामने आयी है जिसके बाद कांग्रेस के राहुल गाँधी पीड़िता के परिवार से मिलने की मांग पर अड़े हुए हैं। दिल्ली के निर्भया काण्ड की तरह हाथरस की घटना ने ऐसी तूल पकड़ी है जिस पर सियासत गर्मायी हुई है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा निकल पड़े यूपी के हाथरस (Hathras) में दलित युवती के परिवार से मिलने। जहाँ उनको यूपी पुलिस ने डीएनडी पर रोक दिया। कांग्रेस नेताओं के साथ बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता डीएनडी पर खड़े रहे।

राहुल और प्रियंका समेत सिर्फ 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति, बाकियों पर लाठी चार्ज

इस दौरान, उत्तर प्रदेश पुलिस ने राहुल गाँधी और प्रियंका गांधी वाड्रा समेत 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति दी है। अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर डू नॉट डिस्टर्ब (DND) फ्लाईओवर पर लाठीचार्ज किया गया है। जिसके बाद राहुल गाधी और प्रियंका गांधी गाड़ी से बाहर आये और चोटिल कार्यकर्ताओं से उनकी सलामती पूछी। पुलिस प्रशासन का कहना है कि काफी लंबे हंगामे के बाद राहुल गांधी और प्रिंयका गांधी को डीएनडी से आगे जाने दिया गया।

राहुल और प्रियंका समेत सिर्फ 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति, बाकियों पर लाठी चार्ज

बता दें कि डीएनडी पर राहुल गाँधी के साथ सैंकड़ों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे और पुलिस का बहुत ही बड़ा जमावड़ा उनको संभालने के लिए तैनात था। जिसके बीच राहुल ने सभी अन्य कार्यकर्ताओं को समझाया और कहा कि पुलिस ने उन्हें हाथरस जाने की अनुमति दे दी है और अब आप हमें आगे आने दें और पुलिस के साथ सहयोग करें।

राहुल और प्रियंका समेत सिर्फ 5 लोगों को हाथरस जाने की अनुमति, बाकियों पर लाठी चार्ज

राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से कहा है कि पीएल पुनिया, गुलाम नबी आजाद, प्रमोद तिवारी को भी आगे जाने दें। समझाने के बाद भी जब कार्यकर्ता नहीं माने तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हटाने के लिए यूपी पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसी बीच, विपक्ष ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस्तीफे की मांग तेज़ कर दी है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कि अगर योगी से उत्तर प्रदेश नहीं संभल रहा है तो वो इस्तीफ़ा देदें।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...