Pehchan Faridabad
Know Your City

ग्रामीण महिलाओं के हुनर को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलवाएंगे हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला

महिला सशक्तिकरण की दिशा में राज्य सरकार एक और बेहतरीन कदम उठाने जा रही है। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की पहल से न केलव ग्रामीण महिलाओं के लिए रोजगार के अवसर बढ़ेंगे ब्लकि इसके साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी उनकी प्रतिभाओं को नई पहचान व उड़ान दिलवाई जाएगी। इसके लिए सेल्फ हेल्प ग्रुप से जुड़ी महिलाओं को फरीदाबाद जिले में लगने वाले अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड मेले के माध्यम से अपना हुनर दिखाने का सुनहरा अवसर मिलेगा।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों के साथ हुई बैठक में डिप्टी सीएम ने महिलाओं को आर्थिक दृष्टि से आत्मनिर्भर बनाने और परिवार की आमदनी बढ़ाने के लिए स्वयं सहायता समूह के गठन पर फोकस किया। उन्होंने आगामी वर्ष लगने वाले सूरजकुंड मेले में भी स्वयं सहायता समूह की सहभागिता सुनिश्चित करने को लेकर आदेश दिए ताकि प्रदेश की ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने हुनर को प्रदर्शित करने का सुनहरा अवसर मिले।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि शहरों के साथ-साथ गांवों में भी महिलाओं के लिए रोजगार के नए अवसर उपलब्ध हों ताकि महिलाओं की आमदनी बढ़े। इसके लिए उन्होंने प्रदेशभर के गांवों में जहां सेल्फ हेल्प ग्रुप (स्वयं सहायता समूह) का गठन हो चुका है उन्हें एक्टिव करने तथा जिन-जिन गांवों में अभी सेल्फ हेल्प ग्रुप का गठन नहीं हुआ है वहां जल्द स्वयं सहायता समूह बनाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए हैं।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मुख्य कार्यकारी अधिकारी इसके लिए जिला स्तर पर हर गांव समूह के गठन को लेकर कार्य-योजना तैयार करके उनकी रिपोर्ट सौंपे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव में महिलाओं का स्वयं सहायता समूह का गठन होने से गांव में बने नए प्रकार के उत्पाद मार्केट में उपलब्ध तो होंगे ही, साथ ही ग्रामीण क्षेत्र में आर्थिक रूप से आत्मनिर्भरता की दर भी बढ़ेगी। डिप्टी सीएम ने कहा कि इसके जरिए महिलाएं लॉकडाउन में आई आर्थिक मंदी से प्रदेश को उभारने के लिए अपनी अहम भूमिका निभाएगी।

उपमुख्यमंत्री ने बैठक में हिसार चल रहे स्वयं सहायता समूह का उदाहरण देते हुए बताया कि नारनौंद, बरवाला, हिसार-1 में 12 हजार से अधिक महिलाएं स्वयं सहायता समूह के माध्यम जुड़कर मास्क, मसाले, बाजरे के लड्डू, सॉफ्ट ट्वाय, आचार आदि अन्य उत्पाद तैयार करके अच्छी-खासी कमाई कर रही है। इतना ही नहीं हिसार के लघु सचिवालय परिसर में स्वयं सहायता समूह का बूथ भी चल रहा है। दुष्यंत चौटाला ने हिसार की तर्ज पर अधिकारियों को स्वयं सहायता समूह एक्टिवेट करने के बाद उनके उत्पाद बेचने के लिए प्रशासन की ओर से प्रदेशभर में जिला स्तर पर एक बूथ स्थापित करने के भी निर्देश दिए।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More