Online se Dil tak

लॉक डाउन में बढ़ रहे घरेलू हिंसा, कांग्रेस ने जारी लिए हेल्पलाइन नंबर

कोरोना महामारी के कारण सुरक्षा उपायों के चलते किए गए देशव्यापी लॉक डाउन में जहां अधिकतर लोग घर पर है वहीं इसका एक नकारात्मक प्रभाव भी समाज पर पड़ रहा है। जिसके चलते इन दिनों घरेलू हिंसा के मामलों में वृद्धि देखने को मिल रही है। इसी समस्या को देखते हुए हरियाणा प्रदेश कांग्रेस ने महिलाओं को घरेलू हिंसा के मामलों में मुफ्त कानूनी मदद मुहैया कराने का अहम निर्णय लिया है।

जिसके चलते हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने महिलाओं को कानूनी मदद मुहैया कराने के लिए महिला अधिवक्ताओं की नियुक्ति के आदेश दिए है ओर इन्हीं निर्देशो की पालना करते हुए हरियाणा कांग्रेस लीगल डिपार्टमेंट के चेयरमैन लाल बहादुर खोवाल हरियाणा ने हरियाणा के प्रत्येक जिले में हिला अधिवक्ताओं की नियुक्ति की है और साथ ही साथ उनके मोबाइल नंबरों की सूची भी जारी की है ताकि कोई भी घरेलू हिंसा का शिकार हुई महिला जल्द से जल्द कानूनी मदद प्राप्त कर सके और अपने साथ हो रहे अत्याचार से निजात पा सके। इस सूचना के बारे में जानकारी देते हुए हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष रोहित जैन द्वारा मदद के लिए नियुक्त की गई महिला अधिवक्ताओं के नाम ओर मोबाइल नंबर की सूची जारी की है जो इस प्रकार है।

महिलाएं इन नंबरों पर करें संपर्क:-

सिरसा से किरण कंबोज – 9315693625
फतेहाबाद से अलका आनंद – 9896651774
हिसार से श्वेता शर्मा – 7015471981
जींद से विनीता जांगड़ा – 8510966789
कैथल से कुसुम पांचाल – 7988950317
भिवानी से निर्मला नूनिया – 8168667134
चरखी दादरी से पूनम मालिक गोदारा – 8053300091
महेंद्रगढ़ सुनीता सिंगल – 9466790687

करनाल से सुमन धीमान – 9255282125
कुरुक्षेत्र से महिमा चौधरी – 8826060777
यमुनानगर से रमण बाला – 8168729943
अंबाला से प्रीति सहगल – 9467928913
अंबाला सिटी से नेहा अरोड़ा – 8901044427
पंचकूला से प्रतिभा कांत – 9467681541

रेवाड़ी से मीनाक्षी यादव – 8571916409
नूंह से सुदेश गर्ग – 9812330915
गुरुग्राम से ललिता कपूर – 9868557259
फरीदाबाद से पराग शर्मा – 9999376737
झज्जर से माया नेहरा – 8199014177
रोहतक से रेनू शास्त्री – 7015314500
सोनीपत से पूनम खोखर – 9034170897
पानीपत से रविता कुमारी – 8814880121

घरेलू हिंसा का शिकार हुई महिला हरियाणा के प्रत्येक जिले में इन नंबरों पर संपर्क कर कानूनी मदद प्राप्त कर सकती हैं ओर अपने साथ हो रहे अत्याचारों के खिलाफ लड़ सकती है।

Read More

Recent