HomeGovernmentपिराई सीजन 2020-21 के लिए राज्य की सभी चीनी मिलों हेतु रखा...

पिराई सीजन 2020-21 के लिए राज्य की सभी चीनी मिलों हेतु रखा गया इतने लाख तक के क्विंटल गन्ने की पिराई का लक्ष्य

Published on

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जेपी दलाल ने कहा कि पिराई सीजन 2020-21 के लिए राज्य की सभी चीनी मिलों हेतु 754 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई का लक्ष्य रखा गया है, जोकि पिछले सीजन 2019-20 में कुल पिराई किए गये 702 लाख क्विंटल गन्ने की अपेक्षाकृत अधिक है। इसके अलावा, राज्य की सभी सहकारी चीनी मिलों को निर्देश दिए गये हैं कि वे अपना पिराई कार्य निर्धारित तिथि पर आरंभ करें।

पिराई सीजन 2020-21 के लिए राज्य की सभी चीनी मिलों हेतु रखा गया इतने लाख तक के क्विंटल गन्ने की पिराई का लक्ष्य


श्री जेपी दलाल आज यहां हरियाणा गन्ना नियंत्रण बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
बैठक के दौरान उन्होंने बताया कि सहकारी चीनी मिलों को चीनी रिकवरी प्रतिशतता बढ़ाने के उद्देश्य से सरस्वती चीनी मिल यमुनानगर को निर्देश दिए गये हैं

कि वे सहकारी चीनी मिल शाहबाद द्वारा प्राप्त की जा रही चीनी रिकवरी प्रतिशतता से सम्बन्धित सभी कारणों का अध्ययन करते हुए दो मास के भीतर अपनी रिपोर्ट तथा चीनी रिकवरी प्रतिशतता बढ़ाने हेतु सुझाव प्रस्तुत करें, ताकि उसके आधार पर राज्य की अन्य चीनी मिलों की चीनी रिकवरी प्रतिशतता बढ़ाने बारे आवश्यक कदम उठाए जाएं।


बैठक में उन्होंने बताया कि पिराई सीजन 2020-21 के दौरान राज्य की तीन सहकारी चीनी मिलों नामत: पलवल, महम तथा कैथल में चीनी के साथ-साथ उच्च गुणवत्ता के गुड़ का उत्पादन भी ट्रायल के तौर पर किया जाएगा, जिसके परिणाम दिसम्बर माह के अंत तक आ जाएंगे। तत्पश्चात प्राप्त परिणामों के आधार पर अन्य सहकारी चीनी मिलों में भी गुड़ उत्पादन का कार्य आरम्भ किया जा सकेगा।

पिराई सीजन 2020-21 के लिए राज्य की सभी चीनी मिलों हेतु रखा गया इतने लाख तक के क्विंटल गन्ने की पिराई का लक्ष्य


कृषि मंत्री ने बताया कि ‘चौड़ी पंक्तियों में गन्ने की बिजाई’ तथा ‘चौड़ी पंक्तियों में बिजाई के बीच सह-फसलें’ विधियों से गन्ने की खेती को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा खाद, बीज, दवाइयां आदि के लिए किसानों को डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके खातों में अनुदान राशि भेजी जा रही है ताकि गन्ने की खेती में मशीनीकरण को बढ़ावा दिया जा सके तथा किसानों की आय में वृद्धि की जा सके। इस उद्देश्य के लिए सरकार द्वारा 13 गन्ना कटाई मशीनें किसानों को अनुदान पर उपलब्ध कराई जाएंगी।


बैठक में सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेन्द्र सिंह, सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार श्री आर एस वर्मा, हरियाणा राज्य सहकारी चीनी मिल प्रसंघ लि0 के प्रबन्ध निदेशक श्री शक्ति सिंह, यमुनानगर से श्री विश्वास चन्द, रोहतक से श्री प्रवीन लांबा, करनाल से श्री जय भगवान और कुरुक्षेत्र से श्री जसविंद्र खेड़ा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...