HomeFaridabadबढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण...

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण : बीआर भाटिया

Published on

प्रदूषण के बढ़ते स्तर को ध्यान में रखते हुए एफआईए अध्यक्ष बीआर भाटिया ने अपनी चिंता व्यक्त की है। पिछले काफी समय से फरीदाबाद में प्रदूषण की मात्रा आसमान छू रही है। पूरे क्षेत्र में हर किसी को सांस लेने में दिक्कत हो रही है और कोहरनुमा प्रदूषण से लोगों की आँखों में भी जलन हो रही है।

ऐसे में दिवाली के त्यौहार को मनाने के लिए प्रशासन ने भी 2 घंटे पटाखे फोड़ने की छूट दी है। हरियाणा सरकार द्वारा यह फरमान जारी किया गया है कि प्रदेश में 2 घंटे पटाखे जलाए जा सकते हैं। इस पूरे मामले को लेकर एफआईए अध्यक्ष ने प्रदूषण से निजात पाने की बात की है।

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण : बीआर भाटिया

उन्होंने कहा कि वो सरकार द्वारा लिए गए 2 घंटे पटाखे फोड़ने के फैसले का स्वागत करते हैं। पर पटाखों के फोड़े जाने पर उन्होंने अपनी चिंता व्यक्त की है। उनका कहना है कि पटाखों के फोड़ने से क्षेत्र में प्रदूषण का स्तर बढ़ जाएगा।

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण : बीआर भाटिया

इससे हर किसी को सांस लेने में परेशानी हो रही है और लोग सुबह की सैर से भी बच रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदूषण को कम करने के लिए सरकार को आला कदम उठाने चाहिए। बीआर भाटिया का कहना है कि प्रदूषण का अहम कारण धूल है जो हवा में मिलकर गंदगी में इजाफा करती है।

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण : बीआर भाटिया

ऐसे में प्रशासन को जरूरत है की जल छिड़काव किया जाए जिससे धूल नीचे बैठ जाएं और प्रदूषण ना हो पाए। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में बढ़ते हुए प्रदूषण को रोकने के लिए जनता को भी संभलने की जरूरत है। क्षेत्र में लोग अपना कूड़ा जलाते है जिससे प्रदूषण स्तर में बढ़ोतरी हो जाती है।

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण : बीआर भाटिया

जनता को यह समझने की जरूरत है कि जल्द से जल्द इस पूरे मामले को लेकर सावधानी बरती जाएं। आपको बता दें कि फरीदाबाद में प्रदूषण की मात्रा बढ़ती जा रही है। महामारी के दौर में प्रदूषण ने भी लोगों की नाक में दम कर रखा है ऐसे में बचाव जरूरी है।

बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए आवश्यक है खुद पर नियंत्रण : बीआर भाटिया

उनका कहना है कि प्रदूषण से बचने की जरूरत है ऐसे में प्लास्टिक के उत्पादनो का उपयोग भी नहीं किया जाना चाहिए। प्रदूषण की रोकथाम के लिए प्रशासन और जनता को जागने की जरूरत है। एक जागरूक समाज से ही प्रदूषण के बढ़ते स्तर पर विराम लगाया जा सकता है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...