HomeUncategorizedसिलबट्टे बेचने वाली महिला के सब इंस्पेक्टर बनने की कहानी हो रही...

सिलबट्टे बेचने वाली महिला के सब इंस्पेक्टर बनने की कहानी हो रही वायरल जानिए पूरा सच

Published on

अगर आपके मन कुछ पाने की हिम्मत हो तो आप कुछ भी कर सकते है बस आपको मेहनत करने की जरूरत है। हर संघर्ष के पीछे कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। अगर आपमे लक्ष्य पाने की वो जज्बा हो तो सारी कायानात भी जुटाने में लग जाती हैं।

आज आपको एक ऐसी ही महिला के संघर्ष के बारे में बताने जा रहे है। जिन्होंने कड़ी मेहनत कर समस्याओं का सामना कर मुकाम को हासिल किया है।

सिलबट्टे बेचने वाली महिला के सब इंस्पेक्टर बनने की कहानी हो रही वायरल जानिए पूरा सच

सोशल मीडिया पर इसी महिला की संघर्ष और हिम्मत की कहानी वायरल हो रही है। यह कहानी पुलिस सब-इंस्पेक्टर पद्मशीला तिरपुडे की है। पत्थर के सिलबट्टे बनाकर बेचने वाली पद्मशील ने मेहनत और लगन से MPAC में पास कर पुलिस उपनिरीक्षक बनीं।

सभी लोग इस सब इंस्पेक्टर की जमकर तारीफ कर रहे है। कहते है न किस्मत भले आपके माथे पर भारी पत्थर रखे लेकिन उनसे कामयाबी का पुल कैसे बनाना है ये भंडारा, महाराष्ट्र की #पद्मशीला_तिरपुडे से सीखें। आपको बता दे कि आईपीएस अधिकारी दीपांशु काबरा ने भी उनकी तस्वीर शेयर की है।

सिलबट्टे बेचने वाली महिला के सब इंस्पेक्टर बनने की कहानी हो रही वायरल जानिए पूरा सच

अगले ट्वीट में आईपीएस दीपांशु ने लिखा, ‘उनके संघर्षों में पति ने पूरा साथ निभाया। शुरुआती दिनों में वे पति के साथ मजदूरी करती थीं। आर्थिक तंगी के चलते पति ने ये तय किया कि वे पत्नी को आगे बढ़ाएंगे और पढ़ाई पूरी करवाएंगे। सिलबट्टे और फल बेचते पद्मशीला ने बैचलर पूरा किया और एमपीएसी क्लियर कर आज पुलिस उपनिरीक्षक बनीं।’

वहीं बता दे कि एक फोटो में लाल साड़ी पहने महिला बच्चे को गोद में उठाए है। उसके सिर पर पत्थर के सिलबट्टे रखे हैं। जबकि दूसरी में वह पुलिस की वर्दी में अपने परिवार के साथ नजर आ रही हैं। दावा किया गया कि महिला जीने के लिए संघर्ष कर रही थी और मेहनत कर पुलिस सब-इंस्पेक्टर बनी। दोनों तस्वीरों को इसी संदेश के साथ फैलाया जा रहा है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...