HomeCrimeमात्र 30 मिनट में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य,लापता बच्चो को किया...

मात्र 30 मिनट में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य,लापता बच्चो को किया परिवार के हवाले

Published on

पर्वतीय कालोनी पुलिस को बंटी निवासी सारण फरीदाबाद ने सुचना दी की उसका लडका हिमांशु जो मंदबुध्दि है अपनी मम्मी के साथ अपने मामा के पर्वतीय कालोनी आया था।

मात्र 30 मिनट में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य,लापता बच्चो को किया परिवार के हवाले

जो कि नजर बचाकर हिमांशु अपने मामा के घर से लगभग 11.00 बजे निकल गया था।जो अभी तक घर नही आया है।

8 साल के मंदबुध्दी बच्चे को पर्वतीय कालोनी पुलिस ने मात्र 30 मिनट मे तलाश कर परिवार के हवाले किया।

मात्र 30 मिनट में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य,लापता बच्चो को किया परिवार के हवाले

सुचना मिलते ही पर्वतीय कालोनी पुलिस ने हिमांशु को तलाश करना शुरु कर दिया। लगभग 30 मिनट बाद पर्वतीय कालोनी की पुलिस टीम ने हिमांशु को डबुआ सारण रोड से सकुशल तलाश कर परिवार के हवाले कर दिया है।

मात्र 30 मिनट में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य,लापता बच्चो को किया परिवार के हवाले

थाना डबुआ पुलिस ने गुम 2 वर्षिय बच्ची सहित महिला को सेक्टर 46 से ठीक हालत मे बरामद करके परिवार के हवाले किया है।

आपको बताते चले की महिला दिनांक 11 नम्बर को अपने 2 वर्षिय बच्ची के साथ घर से बिना बताये कही चली गई थी। जिस पर थाना डबुआ में अभियोग दर्ज कर महिला व बच्ची की तलाश डबुआ पुलिस ने शुरु कर दी थी।

मात्र 30 मिनट में पुलिस ने किया सराहनीय कार्य,लापता बच्चो को किया परिवार के हवाले

थाना डबुआ पुलिस ने इलेक्ट्रोनिक्स माध्यम से महिला और बच्ची को सेक्टर 46 फरीदाबाद से सुरक्षित हालत मे बरामद कर परिवार के हवाले कर दिया है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...