Pehchan Faridabad
Know Your City

वर्ष भर से बंद पड़े फ्लाईओवर का काम शुरू, 2 किलोमीटर होगी लंबाई

दिल्ली आगरा हाईवे 19 पलवल में 1 वर्ष से बंद पड़े करीब 2 किलोमीटर लंबे फ्लाईओवर का निर्माण कार्य एक बार फिर से शुरू हो गया है। फ्लाईओवर के बनने से दिल्ली और आगरा कनेक्ट होंगे जिसका लाभ फरीदाबाद वासियों को भी मिलेगा। निर्माण कार्य बीच में रुकने से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है।

बता दें कि भुगतान ना होने की वजह से इस पुल का निर्माण कार्य 1 वर्ष से बंद पड़ा था। दिल्ली-आगरा हाईवे के निर्माण का जिम्मा और कॉन्ट्रैक्ट रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी के पास है। मगर पूंजी का इंतजाम ना हो पाने के कारण रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर के ठेकेदारों ने काम बंद कर दिया था बिना पूंजी के ना ही रॉ मेटेरियल आ पा रहा था और ना ही मजदूरों को उनका वेतन मिल रहा था जिसके चलते पुल का निर्माण कार्य स्थगित हो गया।

कॉन्ट्रैक्ट के समय रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी का दावा था कि एक वर्ष के अंदर पुल का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। यह फरीदाबाद-पलवल एरिया में सबसे लंबा फ्लाईओवर है जिसमें छह लेन होगी बताया जा रहा है कि यह पुल अलावलपुर चौक से शुरू होकर पलवल तहसील के पास खत्म होगा और इसके बदले से पलवल शहर के बीच हाईवे पर लगने वाला जाम काफी हद तक कम हो जाएगा। कुछ इन्हीं वजहों के कारण फरीदाबाद और पलवल के लोगों को इस पुल का निर्माण कार्य जल्द से जल्द खत्म होने की आशा थी जिससे उनकी दिक्कतों पर भी अंकुश लगाया जा सकता था।

सन 2017 में रिलायंस इन्फ्राट्रक्चर कंपनी ने इस पुल को बनाने का जिम्मा लार्सन एंड टूब्रो कंपनी को दिया था। कंपनी ने 2 अगस्त सन 2017 को पुल का निर्माण कार्य शुरू कर दिया था पर गत वर्ष भुगतान ना होने पर एलएनटी कंपनी ने इस फ्लाईओवर का काम रोक दिया। बता दें कि लगभग 200 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस पुल का निर्माण कार्य एक बार फिर से शुरू हो गया है।

हाईवे पर झाड़सैंतली गांव के सामने व्हीकल अंडरपास का निर्माण भी अधर में लटका हुआ था। जिसका निर्माण इसी महीने शुरू हो गया था बता दें कि गत वर्ष सितंबर महीने में स्कूल की एक लाइन पर ट्रैफिक शुरू कर दिया गया था और इस माह के अंदर अंडर पास का काम पूरा हो जाएगा जिससे लोगों को सफर करने में काफी आसानी होगी।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More