HomeCrimeजानिए क्यों बढ़ रही है झपटमारी की वारदात,एक महीने में इतने...

जानिए क्यों बढ़ रही है झपटमारी की वारदात,एक महीने में इतने मामले आए सामने

Published on

सर्दियाँ आते ही जुर्म की वारदातों को अंजाम देने के लिए सभी आपराधिक गैंग और भी सक्रिय हो जाते है ,क्युकी सर्दियों में पड़ता कोहोरा उन्हें अपने मकसद को अंजाम देने में और भी मद्दतकारी साबित होता है।इस दौरान लूटमार की घटना को ज्यादा अंजाम दिया जाता है ,परन्तु अगर बात की जाये चैन स्नेचिंग की तो वह अक्सर गर्मियों में ही होती है।

जानिए क्यों बढ़ रही है झपटमारी की वारदात,एक महीने में इतने मामले आए सामने

लेकिन इस बार महामारी के प्रसार पर रोक लगाने के लिए सरकार ने गर्मियों में लॉक डाउन घोषित किया हुआ था ,जिसकी वजह से स्नेचिंग की वारदातों पर लगाम लगी थी। लेकिन जैसे ही अनलॉक की स्तिथि घोसित हुई बदमाशों ने फिर से अपने काम को अंजाम देना शुरू कर दिया।

जानिए क्यों बढ़ रही है झपटमारी की वारदात,एक महीने में इतने मामले आए सामने

हर साल गर्मियों के दौरान ही झपटमारी की वारदाते बढ़ती है , इस बार लॉक डाउन के कारन लोग अपने घरो से बहार नहीं निकल रहे थे। इसलिए झपटमारो को भी मौका नहीं मिल रहा था। अब जब सब कुछ पटरी पर आ गया है तो झपटमरी की वारदात भी बड़ी है। सर्दियों के दौरान महिलाएं गर्म कपड़े पहनती हैं तो इस दौरान जा पटवारी रुक जाती है।

मगर इस बार सर्दियों में भी झपट मारी हो रही है अमूमन मार्केट में घूम रही या ऑफिस से आने जाने वाली महिलाएं चेन झपट मारो के निशाने पर होती है दो तोले की चेन की कीमत 55 हजार से ज्यादा है। लेकिन ज्वेलर्स को बेचने पर झपट मारो को करीब 25हजार मिलते हैं बड़ी संख्या में झपट मार गोल्ड लोन कंपनियों के पास भी झपट मारी की चेन गिरवी रखते हैं इससे उन्हें बेचने की बजाय ज्यादा रुपए मिलते हैं।

जानिए क्यों बढ़ रही है झपटमारी की वारदात,एक महीने में इतने मामले आए सामने

इन क्षेत्रों में बढ़ रही है वारदात
बल्लभगढ़ सेक्टर 7, 8 व 9 ,सेक्टर 12 ,सराय ख्वाजा, सेक्टर 37 ,ओल्ड फरीदाबाद क्षेत्रों में झपटमारी की सबसे अधिक घटनाएं हो रही है।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...