Online se Dil tak

सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार

औद्योगिक नगरी के नाम से जाना जाने वाला फरीदाबाद शहर इन दिनों अनेकों समस्याओं से जूझ रहा है। बाटा रेलवे पुल के पास हो रहे सीवर ओवरफ्लो में वाहनों की गति पर ब्रेक लगा दी है। कछुए से धीमी चाल चल रहे वाहनों के कारण राजमार्ग ब्लॉक पड़ा है। राजमार्ग से गुजरने वाले यात्री परेशान हैं और बेटा रेलवे पुल की दोनों लेने का प्रयोग करने वाले चालकों को भी अच्छी खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार
सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार

राष्ट्रीय राजमार्ग से दिल्ली व पलवल की ओर जाने वाले वाहन चालकों को टोल टैक्स देना पड़ता है। टैक्स भरना अनिवार्य है पर साथ ही टैक्सपेयर्स की यह मांग है कि आवागमन बेहतर होना चाहिए। अगर ऐसी दिक्कतों का सामना स्मार्ट सिटी कहलाने वाले फरीदाबाद शहर में करना पड़े तो यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। इस मामले में नगर निगम के अधिकारियों की लापरवाही सामने आ रही है बड़ा पुल के नीचे गंदे पानी का एक तालाब सा बन गया है।

सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार
सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार

यह पानी बारिश होने के कारण इकट्ठा नहीं हुआ है बल्कि बड़ा पुल के नीचे गुजर रहा नाला ओवरफ्लो हो रहा है। जिसका गंदा पानी राजमार्ग तक पहुंच गया है। स्थानीय निवासियों का कहना है कि इस नाले को कई साल से नगर निगम द्वारा साफ नहीं करवाया गया और यही वजह है आज तिथि इतनी खराब हो गई है। सीवर का पानी सड़क पर आ गया जो ना सिर्फ वाहनों की गति थम गई।

सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार
सीवर के पानी से सराबोर हुआ हाईवे, यातायात वाहनों की थमी रफ्तार

बाटा रेलवे पुल के दोनों लाइनों पर भी असर पड़ा है। नगर निगम के कार्यकारी अभियंता सतपाल का कहना है कि नाला काफी समय से जाम पड़ा है। करीब 100 मीटर तक नाले के अंदर से निकाल दिया गया है और बाकी का सफाई कार्य भी जरूरी है। नगर निगम पूर्ण रूप से इस नाले की सफाई करेगा और इस दौरान मौके पर इंजन लगाकर पानी को बाहर निकाला जाएगा।

Read More

Recent